गाजियाबाद [अवनीश मिश्र]। Ghaziabad Crime News: लॉकडाउन खत्म होने के बाद दिल्ली-एनसीआर में अपराध में इजाफा हुआ है। खासकर लूट, चोरी और झपटमारी की घटनाएं बढ़ी हैं। ताजा मामले में गाजियाबाद के थाना क्षेत्र के करन गेट पुलिस चौकी के पास हथियारबंद बदमाशों ने लोहा कारोबारी से फॉर्च्यूनर कार, पांच हजार रुपये नकद व मोबाइल लूट लिया। बदमाशों ने खुद को स्पेशल फोर्स का अधिकारी बताते हुए कारोबारी को रोका। उन्हें कुख्यात विकास दुबे गैंग का सदस्य कह कर धमकाया।

जागरण संवाददाता के मुताबिक, राजेंद्र नगर सेक्टर-दो में रहने वाले अनवर मलिक का लोहा का कारोबार है। बृहस्पतिवार को वह कारोबार के सिलसिले से हरिद्वार गए थे। रात करीब 10 बजे वापस आते लौटते समय साहिबाबाद थाना क्षेत्र में करन गेट पुलिस चौकी के पास मोटरसाइकिल सवार दो बदमाशों ने ओवरटेक कर उन्हें रोक लिया।

मिली जानकारी के मुताबिक, बदमाशों ने खुद को स्पेशल फोर्स का अधिकारी बताते हुए उन्हें विकास दुबे गैंग का सदस्य बताया। उनकी कार की जांच के लिए नीचे उतरने को कहा। वह नीचे उतरे और उन्हें अपना आधार कार्ड दिखाते हुए बताया कि वह कारोबारी हैं।

कारोबारी की सफाई पर नहीं मानें बदमाश

पीड़ित कारोबारी के मुताबिक, उन्होंने कहा कि हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे के गैंग से उनका कोई लेना-देना नहीं है। यह भी कहा कि गैंग के बदमाशों से भी उनका कोई लेनादेना नहीं है। इस बीच उन्हें बदमाशों पर शक हो गया और उनसे उनका परिचय पत्र मांगा। बदमाशों ने उन पर पिस्टल तान दी। उनकी पिटाई करते हुए कार, पांच हजार रुपये और मोबाइल लूट लिया। बदमाशें की पिटाई से उन्हें चोट भी आई है। उन्होंने इसकी साहिबाबाद थाना में शिकायत दी है। शुक्रवार शाम को अज्ञात बदमाशों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज हो गई है। थाना प्रभारी साहिबाबाद अनिल शाही ने बताया है कि रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है। सीसीटीवी फुटेज खंगाले जा रहे हैं। 

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस