गाजियाबाद, जागरण संवाददाता। हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री ओम प्रकाश चौटाला मंगलवार को तीनों केंद्रीय कृषि कानूनों के विरोध में यूपी गेट पर जारी धरने का समर्थन करने पहुंचे। उन्होंने इस दौरान भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait, national spokesperson of Bharatiya Kisan Union) से मुलाकात कर हर परिस्थिति में साथ देने का वादा किया। इंडियन नेशनल लोकदल के मुखिया ओम प्रकाश चौटाला ने यहां पर यह भी कहा कि पूरा देश इस प्रदर्शन के साथ है। प्रदर्शन का परिणाम जो भी हो, लेकिन केंद्र सरकार जल्द ही गिरने वाली है।

गौरतलब है कि तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ यूपी गेट पर नवंबर से प्रदर्शन जारी है। मंगलवार को हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री और इंडियन नेशनल लोकदल के नेता ओमप्रकाश चौटाला यूपी गेट पर पहुंचे। बीते दो जुलाई को ही वह दिल्ली की तिहाड़ जेल से रिहा हुए हैं। शिक्षक भर्ती घोटाले में उन्हें दस साल की सजा हुई थी। ओमप्रकाश चौटाला ने राकेश टिकैत से मुलाकात करते हुए अपना समर्थन दिया।

उन्होंने कहा कि आज पूरा देश कृषि कानूनों के विरोध में खड़ा है। जहां भी देखो किसान परेशान हैं। मंडियों में उनका अनाज खरीदने वाला कोई नहीं। यही कारण है कि सरकार में सहभागी पार्टियां उनसे अलग हो रहीं हैं। ओम प्रकाश चौटाला ने यह भी कहा कि सरकार जल्द ही अल्पमत में आ जाएगी। सरकार गिरेगी और मध्यावधि चुनाव करवाने पड़ेंगे।

यह भी पढ़ेंः केजरीवाल के मंत्री बोले- हमसे कोई रिपोर्ट नही मांगी गई, लोगों के घावों पर नमक छिड़ रही है केंद्र सरकार

 

वहीं, राकेश टिकैत ने कहा कि किसान संसद पहुंचकर सांसदों को जगाने का प्रयास करेंगे। उन्होंने तीनों नए कानून रद करने की मांग की। टिकैत ने कहा कि ओमप्रकाश चौटाला के आने से उन्हें एक नई ऊर्जा मिली है। बुधवार को यूपी गेट पर किसान शहीद स्मृति दिवस मनाया जाएगा। 21 जुलाई 1980 के दिन कनार्टक में फायरिंग में दो किसानों की मौत हुई थी। उनकी स्मृति में यह दिवस मनाया जाएगा।

ये भी पढ़ेंः रेलवे में सफर करते हैं तो न करें ये गलती, महज 16 दिन में यात्रियों से वसूला गया 1.17 करोड़ रुपये जुर्माना

UP Plot Scheme 2021: दिल्ली से सटे गाजियाबाद में लोगों को मिलेगा घर बनाने का मौका, लॉन्च होगी आवासीय स्कीम

Delhi Metro Commuters Alert ! कल कभी भी बंद किए जा सकते हैं ये 7 मेट्रो स्टेशन, वजह भी जानिये

School Reopening News: स्कूल खोलने को लेकर एम्स डायरेक्टर डॉ. रणदीप गुलेरिया ने दी अहम राय

 

Edited By: Jp Yadav