गाजियाबाद, जागरण संवाददाता। Remo D Souza : गाजियाबाद के सत्येंद्र त्यागी से ठगी के मामले में कानूनी कार्रवाई का सामना कर रहे बॉलीवुड के नामी कोरियोग्राफर और डायरेक्टर रेमो डिसूजा ( Remo D Souza) की मुश्किलें बढ़ती दिखाई दे रही हैं। सिहानी गेट थाने में दर्ज धोखाधड़ी के मामले में आरोपित मशहूर कोरियोग्राफर रेमो डिसूजा को अब सिहानी गेट थाने में हाजिरी देनी ही होगी।

दरअसल, इलाहाबाद हाई कोर्ट ने उन्हें सशर्त अग्रिम जमानत देकर कहा है कि वह बिना अनुमति विदेश नहीं जा सकते। सिहानी गेट थाना आकर उन्हें एसएचओ के समक्ष 25-25 हजार रुपये के दो मुचलके भरने होंगे। साथ ही अपना पासपोर्ट गाजियाबाद एसएसपी आफिस में जमा कराने का भी आदेश कोर्ट ने दिया है।

रेमो डिसूजा के खिलाफ सिहानी गेट थाने में वर्ष-2016 में उनके ही दोस्त सत्येंद्र त्यागी ने पांच करोड़ की धोखाधड़ी का मामला दर्ज कराया था। आरोप था कि उन्होंने राजीव खंडेलवाल और जरीन खान स्टारर फिल्म अमर मस्ट डाई में निवेश के एवज में उन्हें दोगुने रिटर्न का आश्वासन दिया गया था। मगर उन्होंने पैसे हड़प लिए। मामले की सुनवाई जिला अदालत में चल रही है। बार-बार समन और वारंट के बाद भी रेमो हाजिर नहीं हुए तो 23 सितंबर को कोर्ट ने उनके खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी कर दिए।

सत्येंद्र त्यागी की मानें तो वह अपने एक रिश्तेदार के जरिये पहले से रेमो डिसूजा का जानते हैं। एक मुलाकात के दौरान रेमो डिसूजा ने ऑफर दिया था कि फिल्म में 5 करोड़ लगाओ और हर हाल में 10 करोड़ रिटर्न मिलेगा। सत्येंद्र त्यागी की मानें तो उन्होंने भरोसा करके 5 करोड़ रुपये फिल्म निर्माण पर लगा दिए। इसके बाद रेमो डिसूजा का व्यवहार की बदल गया और वह लगातार धमकाते भी रहे। थकहार कर सत्येंद्र त्यागी ने थाने में इस बाबत मामला भी दर्ज करा दिया। अब इसी पर कार्रवाई हो रही है।

दिल्ली-एनसीआर की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक 

Posted By: JP Yadav

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप