जागरण संवाददाता, गाजियाबाद : नगर निगम ठेका लेकर विकास कार्य न करने वाले ठेकेदारों पर कार्रवाई करेगा। ऐसे 26 ठेकेदारों को चिह्नित किया गया है। निगम ने तय किया है कि जो ठेकेदार शर्त में निर्धारित तारीख तक कार्य शुरू नहीं करेगा। उसे काली सूची में डाला जाएगा। वाजिब कारण पर ही रियायत दी जाएगी।

नगर निगम में तमाम ठेकेदारों के पास कई-कई कार्यो के ठेके हैं। वह फिलहाल सिर्फ एक कार्य कर रहे हैं। इससे अन्य विकास कार्य प्रभावित हो रहे हैं, जिससे पार्षद और शहरवासी अधिकारियों की शिकायत शासन तक कर रहे हैं। अधिकारी शासन को जवाब देते-देते परेशान हो गए गए है। ठेकेदार बार-बार कहने के बावजूद काम शुरू नहीं कर रहा। नगर निगम में ऐसे लापरवाह ठेकेदारों पर शिकंजा कसने के लिए नीति बनाई गई है। उसके तहत ठेके की शर्तों में निर्धारित तारीख तक ठेकेदार विकास कार्य शुरू नहीं करता तो उसे ब्लैक लिस्ट कर दिया जाएगा। वह दोबारा किसी ठेके के लिए आवेदन नहीं कर पाएगा। अभी सड़क, नाली, नाले, पुलिया संबंधी कार्य 26 ठेकेदार शुरू नहीं कर पाए हैं। उनके खिलाफ कार्रवाई की प्रक्रिया शुरू होने जा रही है।

ठेका लेकर काम न करने वाले ठेकेदारों को काली सूची में डाला जाएगा। वह दोबारा निगम में कार्य नहीं कर पाएंगे। ऐसे 26 ठेकेदार चिह्नित किए गए हैं। उन पर कार्रवाई की तैयारी चल रही है।

-मोइनुद्दीन, मुख्य अभियंता, नगर निगम

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस