जासं, गाजियाबाद : मसूरी के डासना में 20 जुलाई की रात भाजपा के डासना मंडल अध्यक्ष डॉ. बीएस तोमर की गोलियों से भूनकर हत्या के मुख्य आरोपित 25 हजार के इनामी अमन कुरैशी ने शुक्रवार शाम कोर्ट में सरेंडर कर दिया है। उसका दोस्त नौशाद अभी भी फरार है। इससे पहले दो इनामी सलमान और अरबाज को दिल्ली क्राइम ब्रांच ने आ‌र्म्स एक्ट के तहत गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था।

भाजपा नेता की हत्या में मसूरी थाना प्रभारी प्रवीन कुमार शर्मा और डासना चौकी प्रभारी संजय अत्री को आइजी रेंज आलोक सिंह ने सस्पेंड कर दिया था। सड़क परिवहन एवं राष्ट्रीय राजमार्ग राज्यमंत्री वीके सिंह उनके घर पहुंचे थे। बाद में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह भी सरकार और पार्टी संगठन की ओर से 15 लाख रुपये देने परिवार को पहुंचे थे। पुलिस ने घटना का पर्दाफाश कर तीन परिवारों पर हत्या की साजिश रचने का दावा किया था। मामले में नौ लोगों की गिरफ्तारी हुई थी, जबकि फरार मुख्य आरोपित सलमान, अरबाज, नौशाद और अमन के खिलाफ एसएसपी ने 25-25 हजार रुपये का इनाम घोषित किया था। इनमें से सलमान और अरबाज को दिल्ली क्राइम ब्रांच बृहस्पतिवार को गिरफ्तार कर लिया था और अमन ने शुक्रवार को गाजियाबाद कोर्ट में सरेंडर कर दिया है। अमन किशोरी का भाई है, जिसके अपहरण के मामले में बीएस तोमर ने दूसरे पक्ष की पैरवी की थी। इसी कारण किशोरी के परिजनों ने भाजपा नेता की हत्या की साजिश रची थी। एसपी ग्रामीण नीरज कुमार जादौन ने बताया कि अमन, सलमान व अरबाज को रिमांड पर लेकर पूछताछ की जाएगी।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस