संवाद सहयोगी, लोनी : असालतपुर-फर्रुखनगर गांव में अधिकारियों की आंखों में धूल झोंककर कारोबारी खुले मैदानों में पटाखे बेच रहे हैं। कारोबारी के एजेंट मोटरसाइकिल पर बैठे-बैठे लाखों रुपये के पटाखों की डील कर रहे हैं। आरोप है कि यदि अधिकारी इसी तरह पटाखों के कारोबार से अनजान बने रहे तो दिवाली के बाद लोगों को आंखों में चुभन, सांस लेने में परेशानी का सामना करना पड़ेगा।

प्रशासनिक अधिकारियों ने कई बार फर्रुखनगर गांव में पटाखा कारोबारियों के खिलाफ छापेमारी की। वहीं पुलिस ने पटाखे बेचने और बनाने वालों के खिलाफ कार्रवाई कर अब फर्रुखनगर गांव में पटाखे का कारोबार न होने का दावा किया है, लेकिन पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों के दावे फेल होते नजर आ रहे हैं। वाट्सएप पर वायरल हो रहे वीडियो से इसकी तस्दीक हो रही है। सड़क पर खड़े होकर होती है पटाखों की डील: वाट्सएप पर वायरल वीडियो में दो युवक सड़क किनारे खड़े दिखाई दे रहे हैं। कुछ देर बाद एक मोटरसाइकिल पर दो युवक उनके पास पहुंचते हैं। दोनों युवक मोटरसाइकिल सवार युवकों से पूछते हैं कि कितने पटाखे खरीदने हैं। उन्होंने बच्चों के संबंधित पटाखों की कीमत बताई। सौदा तय होने पर दोनों युवक पटाखे दिलाने के लिए एक मकान में ले गए। जहां भारी मात्रा में पटाखे रखे हुए थे। युवकों ने कट्टों में पटाखे भरकर चलते बनते हैं। फर्रुखनगर गांव में पटाखों की बिक्री होने की जानकारी मिली है। मामले में जिलाधिकारी को अवगत कराया जा रहा है। उनके निर्देशानुसार टीम गठित कर छापेमारी कर पटाखे जब्त किए जाएंगे।

- खालिद अंजुम, उपजिलाधिकारी लोनी

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस