जासं, गाजियाबाद : दहेज को लेकर प्रताड़ित करने और लड़की होने पर तलाक की अर्जी डालने के आरोप में दिल्ली पुलिस के सिपाही और उसके परिवार के खिलाफ विजयनगर थाने में केस दर्ज किया गया है। एसएसपी सुधीर कुमार सिंह के आदेश पर केस में पत्नी ने लिग परीक्षण कराने और मारपीट का भी आरोप लगाया है। पीड़िता फिलहाल अपने बेटे व बेटी के साथ मायके में रुकी हुई है।

बढ़ती ही गई दहेज की मांग

बहरामपुर में रहने वाले कलक्ट्रेट स्थित एडीएम आफिस में तैनात सरकारी कर्मचारी जीत सिंह ने अपनी बेटी रजनी की शादी फरवरी 2014 में प्रताप विहार निवासी कुंवरपाल के बेटे विकास कुमार से की थी। विकास दिल्ली पुलिस में सिपाही है। रजनी के मुताबिक शादी में पिता ने 30 लाख रुपये खर्च किए थे, साथ ही 55 वर्गगज का एक प्लॉट भी विकास के नाम कर दिया था। शादी के बाद ही ससुरालियों ने घर से और दहेज लाने की मांग शुरू कर दी। डेढ़ साल बाद उन्होंने बेटे तोषान (4) को जन्म दिया। बच्चे के जन्म लेते ही आरोपितों ने दबाव बढ़ा दिया तो जीत सिंह ने 50 वर्गगज का एक और प्लॉट ससुरालियों के नाम कर दिया। रजनी छह माह पहले दुबारा गर्भवती हुईं। चुपके से आरोपितों ने गर्भस्थ शिशु का लिग परीक्षण करा लिया। आरोप है कि ससुरालियों ने गर्भ में बेटी होने की जानकारी दी। साथ ही घर से पांच लाख रुपये और 100 वर्गगज का प्लॉट अपने पिता से फिर मांगने की बात कही।

बेटे की पढ़ाई छुड़वा दी

आरोपितों ने सिद्धार्थ विहार स्थित डीपीएस में नर्सरी क्लास में पढ़ रहे बेटे तोषान की पढ़ाई के लिए मायके से पैसे मंगाने तक का दबाव बनाया। नहीं मिलने पर उसकी दो माह की फीस नहीं भरी और पढ़ाई छुड़वा दी। वह बेटे को लेकर मायके आ गईं। पुलिस शिकायत के बाद थाने में समझौता हुआ तो वह ससुराल गईं, लेकिन डेढ़ माह तक पति घर पर नहीं आया। आरोप है कि दहेज की मांग पूरी नहीं होने पर अक्टूबर-2019 में उनसे मारपीट कर घर से निकाल दिया गया। चार नवंबर को उन्होंने बेटी को जन्म दिया। आरोप है कि विकास ने गाजियाबाद कोर्ट में रजनी से तलाक की अर्जी डाल दी। इसके बाद पीड़िता ने एसएसपी से गुहार लगाई। पीड़िता की शिकायत पर विजयनगर थाना पुलिस को केस दर्ज करने का आदेश दिया गया था। दहेज प्रताड़ना व मारपीट के आरोप में दिल्ली पुलिस के सिपाही विकास, पिता कुंवरपाल, सास शीला देवी, ननद आशा व सोनम और सोनम के पति मनोज कुमार के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

- सुधीर कुमार सिंह, एसएसपी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस