जागरण संवाददाता, साहिबाबाद :

दैनिक जागरण की ओर से शनिवार को इंदिरापुरम की शिप्रा सनसिटी सोसायटी में लोगों को ट्रैफिक नियमों के प्रति जागरूक करने के लिए कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस दौरान लोगों को वाहन संशोधन अधिनियम 2019 के विषय में जानकारी दी गई। बताया गया कि लोग जुर्माने की राशि पर ध्यान न देकर यातायात नियमों का पालन करें तो यह सरकार और लोगों के लिए अच्छा होगा। साथ ही सड़क दुर्घटनाएं कम होंगी।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि सेवानिवृत्त डीएसपी और गाजियाबाद में सीओ ट्रैफिक रहे पीपी कर्णवाल ने लोगों के सवालों का जवाब दिया। उन्होंने कहा कि लोग दिल्ली में प्रवेश करते ही यातायात नियमों का पालन करने लगते हैं, लेकिन गाजियाबाद में नियमों का उल्लंघन करते हैं। सड़क पर वाहन चलाते समय छोटी-छोटी गलतियों की वजह से हादसे होते हैं। विदेशों में यातायात नियम को लेकर कानून सख्त हैं, जिसकी वजह से लोग छोटे से छोटे नियमों का भी पालन करते हैं, जिससे बहुत ही कम हादसे होते हैं। मोटर वाहन अधिनियम में इसीलिए संशोधन किया गया है कि लोग यातायात नियमों का पालन करें। जब लोगों को यातायात नियमों का उल्लंघन करने पर ज्यादा जुर्माना देना होगा तो नियमों का पालन करेंगे। दुर्घटना में न केवल उस परिवार को आर्थिक नुकसान होता है बल्कि उससे जुड़े सभी लोगों को खामियाजा उठाना पड़ता है। जुर्माने से बचने के लिए लोग वाहन के कागजात मोबाइल के डिजिलॉकर एप में ई-कॉपी के रूप में रख सकते हैं। इस एप में रखी गई ई-कॉपी असली कागजात की तरह मान्य होती है।

----------

कभी नहीं कटा मेरा चालान :

कार्यक्रम में शामिल हुए जय वीर सिंह ने कहा कि 1972 में उनका ड्राइविग लाइसेंस बना था। वह विभिन्न राज्यों में रहे और वाहन चलाया लेकिन आज तक उनका चालान नहीं हुआ है क्योंकि वह यातायात नियमों का पालन करते हैं। उन्होंने यातायात नियमों का पालन करने की अपील की। वही कार्यक्रम में मौजूद रहे शिप्रा सनसिटी वार्ड संख्या -100 के पार्षद संजय सिंह ने भी लोगों से यातायात नियमों का पालन करने को कहा। कार्यक्रम में डीपीएस सिद्धार्थ विहार के बच्चे भी मौजूद रहे और उन्होंने भी अपनी जिज्ञासाओं को शांत किया।

-------------

लोग भी बोले :

वाहन की कागजातों को पॉकेट में लेकर चलने में असुविधा होती है। अब डिजिलॉकर मोबाइल एप में वाहन के कागजातों को रखकर आसानी से कहीं भी आया जाया जा सकता है। इससे लोगों को सहूलियत मिलेगी।

- आरपी शर्मा दैनिक जागरण द्वारा आयोजित कार्यक्रम के माध्यम से वाहन संशोधन अधिनियम-2019 के बारे में कई जानकारियां मिली। कई तथ्य ऐसे थे जिन पर संशय बना हुआ था। हम यातायात नियमों का पालन करेंगे। - साक्षी सिंह मैंने नए यातायात नियमों के बारे में जाना। मैं अपने बाकी दोस्तों और परिवार के लोगों को भी बताऊंगी। हर शख्स को खुद यातायात नियम का पालन करना चाहिए और दूसरों को भी जागरूक करना चाहिए। - शैली कपूर मोटरसाइकिल के कागजात लेकर चलने में असुविधा होती थी। इससे लोग परेशान थे, लेकिन डिजिलॉकर में वाहन की ई-कॉपी रखकर चालान से बचा जा सकता है। यह सरकार की अच्छी पहल है। इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाना चाहिए। - रीटा छाबड़ा आजकल लोग फैंसी नंबर प्लेट वाहनों पर लगाकर धड़ल्ले से घूम रहे हैं। नंबर प्लेट पर जाति नाम व अन्य शब्द लिखे होते हैं। ऐसे में हादसे होने पर वाहनों की पहचान करना मुश्किल है। इस पर भी कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए। -दीपक लोगों की छोटी-छोटी गलती की वजह से सड़क हादसे होते हैं, जिसमें गलती करने वाले के साथ सड़क पर चल रहा अन्य व्यक्ति भी घायल हो जाते हैं। हम सभी को यातायात नियमों का पालन करना चाहिए, जिससे हादसे न हों - डीसी शर्मा जो बदलाव हम समाज में देखना चाहते हैं सबसे पहले उसे हमें अपने अंदर लाना चाहिए। दैनिक जागरण की इस पहल में हमने यातायात के नए नियमों के बारे में जाना। मैं खुद अपने परिवार को यातायात नियमों का पालन करने के लिए जागरूक करूंगी। - सोनिया अन्य देशों के मुकाबले हमारे देश में सबसे अधिक सड़क हादसे हो रहे हैं। इसके पीछे की मुख्य वजह देश के नागरिकों को अपनी जिम्मेदारी न समझने और यातायात नियमों का उल्लंघन करना है। - प्रवीण मैं अपने पूरे परिवार से कहूंगी कि वह सड़क पर चलते समय यातायात के हर नियम का पालन करें, जिससे वह खुद सुरक्षित रहें और दूसरों को भी सुरक्षित करें। क्योंकि घर पर हर शख्स का इंतजार कोई न कोई कर रहा होता है। - अहाना जल्दी पहुंचने के चक्कर में लोग वाहन तेजी से चलाते हैं, जिसकी वजह से हादसे होते हैं हमें घर से पांच मिनट पहले ही निकल जाना चाहिए, जिससे हम समय से पहले पहुंच जाएं और अपनी जिदगी को खतरे में ना डालना पड़े । - नमन

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप