संवाद सहयोगी, मुरादनगर : शहर की शंकर विहार कॉलोनी से लापता हुए चिकित्सक का पुलिस एक साल बाद भी कोई सुराग नहीं लगा सकी है। परिजनों ने इस संबंध में थानाक्षेत्र में रहने वाली दो युवतियों सहित चार लोगों के खिलाफ हत्या की आशंका जताते हुए अपहरण की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। परिजन चिकित्सक की बरामदगी को लेकर एक साल बाद भी थाने के चक्कर लगाने को मजबूर हो रहे हैं।

मूल रूप से शाहजहांपुर निवासी अंकिता की शादी शंकर विहार कॉलोनी निवासी डॉक्टर अशोक कुमार के साथ हुई थी। अंकिता शाहजहांपुर के एक सरकारी स्कूल में शिक्षिका हैं, जबकि डॉक्टर अशोक कुमार शहर के रेलवे रोड पर अपनी क्लीनिक चलाते हैं। गत 29 अगस्त 2017 को अंकिता ने पति से अंतिम बार फोन पर बात की थी। इसके बाद से ही अशोक कुमार का फोन बंद आ रहा है। काफी तलाशने पर भी जब डॉक्टर अशोक कुमार का कुछ पता नहीं चल सका तो परिजनों ने इस संबंध में मुरादनगर थाने में तहरीर दी। जिसके बाद पुलिस ने लापता चिकित्सक की कॉल डिटेल खंगाली। पुलिस जांच में थानाक्षेत्र में रहने वाली दो युवतियों की डॉक्टर अशोक कुमार के फोन पर घंटों बात करने की बात सामने आई। इसके बाद लापता चिकित्सक के परिजनों ने दोनों युवतियों सहित चार लोगों के खिलाफ अपहरण की रिपोर्ट दर्ज कराई। बता दें कि रिपोर्ट दर्ज होने के एक साल बाद भी डॉक्टर अशोक कुमार का कुछ पता नहीं लग सका है। पुलिस एक साल बाद भी उनका कोई सुराग नहीं लगा सकी है, जबकि परिजन थाने के चक्कर लगाने को मजबूर हैं। वहीं इसके अलावा 4 दिन पूर्व गांव नेकपुर से मायके जाने के लिए घर से निकली लापता महिला का अभी तक कुछ पता नहीं चल सका है। परिजनों ने पड़ोस में रहने वाले एक युवक पर अपहरण कर महिला की हत्या करने का शक जाहिर करते हुए थाने में तहरीर दी थी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस