जासं, गाजियाबाद : पश्चिमांचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड (पीवीवीएनएल) में कुछ अधिकारियों पर भ्रष्टाचार व अनियमितताओं के आरोप लगे हैं। इस मामले में गाजियाबाद व नोएडा के मुख्य अभियंता का नाम भी शामिल हुआ है। मुख्यमंत्री कार्यालय ने इन अधिकारियों की विजिलेंस टीम से रिपोर्ट मांगी है।

मुख्यमंत्री कार्यालय से नोएडा व गाजियाबाद विद्युत निगम के मुख्य अभियंताओं की रिपोर्ट तलब की गई है। इसके अलावा दक्षिणांचल विद्युत वितरण निगम के पूर्व एमडी एसके वर्मा का नाम भी शामिल है। बताया जा रहा है कि वह रिटायर हो चुके हैं। सर्विलांस टीम ने गत सप्ताह पीवीवीएनएल कार्यालय मेरठ पहुंचकर तथ्य जुटाना शुरू कर दिया है। विजिलेंस की ओर से बिजली विभाग के आला अधिकारियों को भी इस पूरे मामले की जानकारी दी गई है। इस समय गाजियाबाद में मुख्य अभियंता के पद पर राकेश कुमार राणा व नोएडा में पश्चिमांचल विद्युत वितरण निगम के चीफ इंजीनियर बीएन सिंह हैं। इसके अलावा विद्युत निगम के कुछ और नाम भी जांच के दायरे में हैं। गृह विभाग ने पहले इनके खिलाफ गोपनीय जांच और खुली जांच के लिए रिपोर्ट तलब की है। गाजियाबाद के चीफ इंजीनियर राकेश कुमार राणा ने बताया कि इस मामले में उन्हें अभी तक कोई जानकारी नहीं मिली है।

-------------

विजिलेंस कर रही पड़ताल

भुगतान, चल और अचल संपत्तियां, निगम अधिकारियों की तैनाती व समयावधि, कार्यकाल में सामग्री आपूर्ति, राजकीय धन के अपव्यय आदि आरोप हैं। जांच के लिए विजिलेंस पड़ताल कर रही है। यह मामला बिजली विभाग के आला अधिकारियों के संज्ञान में पहुंच चुका है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस