जागरण संवाददाता, साहिबाबाद : कार्स 24 के चार निदेशकों पर फर्जी कागजात के जरिये स्कार्पियो बेचने का आरोप लगा है। उनके खिलाफ इंदिरापुरम कोतवाली में धोखाधड़ी व धमकी देने की धाराओं में रिपोर्ट दर्ज हुई है। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।

राजेंद्र नगर सेक्टर-तीन के विजय कुमार जैन इंदिरापुरम कोतवाली क्षेत्र के वैशाली सेक्टर-नौ में एमएसडी आटो प्लस के नाम से पुरानी कार खरीदने और बेचने का कारोबार करते हैं। विजय कुमार जैन के मुताबिक उन्होंने कार्स 24 से 15.19 लाख रुपये में स्कार्पियो खरीदी। उसके डेंट पेंट व अन्य काम में 2.24 लाख रुपये अतिरिक्त खर्च किया। ऋण के लिए बैंक में आवेदन किया तो पता चला कि स्कार्पियो पर पहले से ही लोन चल रहा है। उनका आरोप है कि कार्स 24 की ओर से उन्हें बैंक का फर्जी अनापत्ति प्रमाण पत्र दिया गया था। उन्होंने इसकी कार्स 24 में शिकायत की। कार्स 24 की ओर से उन्हें इंदिरापुरम के शक्ति खंड एक में बुलाया गया। वहां तीन लोग मिले। पैसा वापस मांगने पर उन्हें जान से मारने की धमकी दी। उन्होंने कार्स 24 के निदेशकों मैहुल अग्रवाल, रूचित अग्रवाल, विक्रम चोपड़ा व गजेंद्र जांगिड और तीन अज्ञात पर धोखाधड़ी करने और जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाते हुए इंदिरापुरम कोतवाली में तहरीर दी। पुलिस ने शनिवार को आरोपितों के खिलाफ धोखाधड़ी व धमकी देने की धाराओं में रिपोर्ट दर्ज की। पुलिस अधीक्षक नगर द्वितीय ज्ञानेंद्र सिंह ने बताया कि शिकायत के आधार पर रिपोर्ट दर्ज की गई है। जांच करके विधिक कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Jagran