जासं, गाजियाबाद : विश्व व्यापार संगठन में भारतीय गन्ना किसानों के हितों पर हमलावर नीति का भारतीय किसान यूनियन (भाकियू) ने विरोध जताया है। उन्होंने गणतंत्र दिवस पर ब्राजील के राष्ट्रपति को बतौर मुख्य अतिथि आमंत्रित करने पर एतराज जताते हुए प्रधानमंत्री को ज्ञापन भेजा है, जिसमें उन्होंने भारत की ओर से विश्व व्यापार संगठन में जाने वाले ब्राजील पर भारत सरकार की ओर से कूटनीतिक दबाव डालकर याचिका वापस लेने की मांग की।

उनका कहना है कि ब्राजीली सरकार भारतीय गन्ना किसानों की आजीविका के लिए खतरा पैदा कर रही है। फरवरी 2019 में ब्राजील ने चीनी की वैश्विक कीमत में गिरावट की वजह भारत को बताते हुए भारत के घरेलू समर्थन मूल्यों के साथ चीनी के लिए निर्यात सब्सिडी के उपायों पर सवाल खड़े किए हैं। इस संबंध में भाकियू कार्यकर्ताओं ने ज्ञापन जिलाध्यक्ष बिजेंद्र सिंह के नेतृत्व में डीएम को सौंपा। इस दौरान शमशेर राणा, रविद्र सिंह, सुभाष कुमार, महेंद्र सिंह, साहब सिंह, पवन कुमार, इरफान खान, दीन मोहम्मद, चंद्रपाल आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस