जागरण संवाददाता, साहिबाबाद: कृषि कानूनों के विरोध में चल रहे धरना-प्रदर्शन के कारण बुधवार को यूपी गेट होकर दिल्ली से आवाजाही बंद रही। वाहन चालकों को अन्य सीमाओं से आवाजाही करनी पड़ी। इससे अन्य सीमाओं पर वाहनों का दबाव अधिक रहा। खोड़ा-दिल्ली सीमा पर दिनभर भयंकर जाम लगा रहा। इसमें एंबुलेंस भी फंसी रही। इससे काफी परेशानी हुई।

धरना-प्रदर्शन के कारण राष्ट्रीय राजमार्ग-नौ, दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे और सर्विस रोड यूपी गेट पर बंद है। यहां से दिल्ली आवाजाही करने वालों का रूट डायवर्जन किया गया है। उन्हें खोड़ा, ईडीएम माल, महाराजपुर, चंद्र नगर, ज्ञानी बार्डर, सीमापुरी, डीएलएफ, भोपुरा आदि सीमाओं से गुजारा जा रहा है। बुधवार को इन सीमाओं और इन्हें जोड़ने वाली सड़कों पर यूपी गेट के वाहनों का भी दबाव रहा। दबाव बढ़ने से जाम की स्थिति बनी। सबसे ज्यादा समस्या गौड़ ग्रीन एवेन्यू इंदिरापुरम से खोड़ा नहर को जाने वाली रोड पर रही। इस रोड पर वाहनों की कतार गौड़ ग्रीन एवेन्यू से लेकर खोड़ा-दिल्ली सीमा तक रही। यहां दिनभर भयंकर जाम लगा रहा। जाम में एंबुलेंस भी फंसी रही। उनमें सवार मरीजों को काफी तकलीफ हुई। वहीं, जाम में फंसे लोगों को अपने गंतव्य तक पहुंचने में देरी हुई। वहीं, ध्वनि व वायु प्रदूषण भी हुआ। यातायात पुलिस अधीक्षक रामानंद कुशवाहा का कहना है कि यूपी गेट पर चल रहे धरना-प्रदर्शन के कारण रूट डायवर्जन किया गया है। यह है रूट डायवर्जन

- हापुड़ की तरफ से यूपी गेट होकर जाने वाले वाहनों को डासना पुल, हापुड़ चुंगी, एएलटी राजनगर एक्सटेंशन, रोटरी गोलचक्कर, नागद्वार होते हुए भोपुरा सीमा से दिल्ली भेजा जा रहा है।

- जल निगम पुलिस चौकी से मेरठ तिराहा, मोहन नगर से आने वाले वाहनों को सीमापुरी सीमा से दिल्ली भेजा जा रहा है।

- मोहन नगर से यूपी गेट जाने वाले वाहन डाबर तिराहा से महाराजपुर सीमा से दिल्ली भेजा जा रहा है।

- छिजारसी, नोएडा सेक्टर-62 से आने वाले वाहन नोएडा की ओर से दिल्ली भेजा जा रहा है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप