जागरण संवाददाता, गाजियाबाद: बुलंदशहर रोड़ औद्योगिक क्षेत्र की एक फैक्ट्री के आठ कर्मचारियों समेत 169 कोरोना संक्रमित हो गए हैं। इन कर्मचारियों को एसआरएम कोविड अस्पताल में भर्ती कराया गया है। फैक्ट्री को 24 घंटे के लिए सील कर दिया गया है।

पांच परिवारों के बीस सदस्य भी संक्रमित

टांस हिडन क्षेत्र की पॉश कॉलोनियों के पांच परिवारों के बीस सदस्य भी संक्रमित हो गए हैं। लोनी थाने के एक सिपाही को संक्रमित होने पर ईएसआईसी कोविड अस्पताल राजेंद्र नगर में भर्ती कराया गया है। दो गर्भवती महिलाओं को संक्रमित होने पर संयुक्त अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सोमवार को प्रशासन द्वारा जारी की गई रिपोर्ट के मुताबिक स्वस्थ होने पर 56 मरीजों की अस्पतालों से छुट्टी कर दी गई है। जिले में अब सक्रिय मरीजों की संख्या बढ़कर 1436 हो गई है। 47 मरीजों को होम आइसोलेशन की अनुमति दी गई है। 41 मरीजों को सरकारी कोविड अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। 11 मरीज पहले से ही निजी अस्पतालों में भर्ती हैं। ठीक होने वालों की संख्या 7896 है।

----

संक्रमित होने पर लेता रहा सैंपल

स्वास्थ्य विभाग के अफसरों की लापरवाही का ही नतीजा है कि तीन दिन से संक्रमित लैब सहायक द्वारा जिला एमएमजी अस्पताल में बनाए गए बूथ पर कोरोना जांच के सैंपल ले रहा था। तीन दिन में वह एक हजार व्यक्तियों के सैंपल ले चुका है। सोमवार को उसने सबसे पहले खुद की जांच कराई और रिपोर्ट पॉजिटिव आई तो कर्मचारियों के साथ ही अफसरों के होश उड़ गए। उसे होम आइसोलेट कर दिया गया है।

----

एक दिन पहले संपन्न हुआ सीरो सर्वे

चार सितंबर से जिले में शुरू हुआ सीरो सर्वे एक दिन पहले ही खत्म हो गया है। सोमवार को 316 व्यक्तियों के सैंपल लिए गए हैं। सीएमओ डॉ. एन के गुप्ता ने बताया कि 45 क्षेत्रों से लिए गए 1440 व्यक्तियों के सैंपल अब लखनऊ भेजे जाएंगे। स्वास्थ्य विभाग की दस टीमों ने जिले के शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में एंटीबॉडी का पता लगाने के लिए ये सैंपल एकत्र किए हैं। शासन के निर्देश पर सर्वे आठ सितंबर तक होना था लेकिन यह सात सितंबर को संपन्न हो गया।

----

जिला एमएमजी अस्पताल का फार्मेसिस्ट संक्रमित

जिला एमएमजी अस्पताल के एक फार्मेसिस्ट सोमवार को संक्रमित हो गए। शुगर के मरीज होने के चलते उनकी हालत बिगड़ गई। आनन-फानन में उक्त फार्मेसिस्ट को कोविड एल-3 संतोष मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है। बताया गया है कि उनको सांस लेने में परेशानी हो रही थी। प्रभारी डॉ. मिथलेश कुमार ने बताया कि फार्मेसिस्ट की हालत खतरे से बाहर है।

----

अब कोविड एल-3 में लगेगी ट्रू नेट मशीन

जिला एमएमजी अस्पताल के बाद कोविड एल-3 संतोष मेडिकल कॉलेज में भी ट्रू नेट मशीन लगाई जाएगी। शासन स्तर से मशीन का आवंटन कर दिया गया है। कोरोना के गंभीर मरीज सबसे अधिक संतोष मेडिकल कॉलेज में ही भर्ती हो रहे हैं। कई बार ठीक होने वाले मरीजों की जांच रिपोर्ट विलंब से आती है। इसके लिए ट्रू नेट मशीन से कोरोना की जांच की जाएगी। ट्रू नेट मशीन से कोरोना की जांच रिपोर्ट 45 मिनट में आ जाती है। उधर जिला एमएमजी अस्पताल में रैपिड एंटीजन टेस्ट बंद कर दिए गए है।

----

कोविड एल-1 राजेंद्र नगर में 76 मरीज

कोविड एल-1 राजेंद्र नगर 76 बेड हैं। वहां फिलहाल 76 मरीज भर्ती हैं। अधिकांश संक्रमित ईएसआईसी राजेंद्र नगर में ही भर्ती होना चाहते है। इसकी वजह उक्त अस्पताल में उपचार का बेहतर इंतजाम है और मरीजों के खान पान का खास ख्याल रखा जा जाता है। इसके अलावा एसआरएम अस्पताल में सौ संक्रमित भर्ती है। संयुक्त अस्पताल में बने कोविड एल-2 में 70 मरीज भर्ती है।

----

कोरोना मीटर: गाजियाबाद

कुल केस/24 घंटे में- 9406/169

सक्रिय केस/24 घंटे में- 1436/91

स्वस्थ हुए/24 घंटे में- 7896/56

कुल मौत/24 घंटे में- 73/00

कुल टेस्ट/24 घंटे में- 219902/3470

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021