जागरण संवाददाता, इंदिरापुरम

प्रांतिक कल्चरल सोसायटी की टीम ने एक बार फिर दिल्ली में अपनी धाक दिखाई। दिल्ली के बंगाल एसोसिएशन के 15 वें बोई यानी पुस्तक मेला और बंग संस्कृति उत्सव में प्रांतिक कल्चरल सोसायटी की रंगारंग पेशकश ने सभी का मन मोह लिया।

बंगाल एसोसिएशन का उत्सव 15-20 मार्च तक नई दिल्ली के कालीबाड़ी प्रांगण में आयोजित हो रहा हैं। इस उत्सव में दिल्ली के अलावा देश के विभिन्न क्षेत्रों जैसे तमिलनाडु, गुजरात, पश्चिम बंगाल के लोग अपनी कला का प्रदर्शन करने पहुंचे हैं। इस विशाल मेले में इंदिरापुरम की प्रांतिक कल्चरल सोसायटी ने उत्तर प्रदेश का प्रतिनिधित्व करते हुए इंदिरापुरम की भी शान बढ़ा दी। प्रांतिक टीम ने इस अवसर पर नृत्य नाटिका 'तुमि मृण्मयी, तुमि चिन्मोई , तुमि जाया' पेश की। यह नृत्य नाटिका नारी शक्ति की महत्ता को रेखांकित करने के साथ उसे स्थापित करने वाली भी है। नृत्य नाटिका में इंदिरापुरम की 35 महिलाओं ने अपनी कला प्रतिभा का शानदार प्रदर्शन कर लोगों की सराहना हासिल की।

बंगाल एसोसिएशन की स्थापना 1958 में भारतीय संस्कृति को आगे बढ़ने के लिए की गई थी। इस बार के बोई मेले में प्रांतिक कल्चरल टीम का प्रदर्शन लाजवाब रहा।

संजीवन देब राय, प्रांतिक कल्चर सोसायटी इंदिरापुरम