जागरण संवाददाता, फीरोजाबाद: चार वर्ष पूर्व विवाद के चलते गांव से पलायन कर चुके 20 परिवार एक बार फिर गांव में बसने जा रहे हैं। जसराना विधायक की पहल पर पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों ने उन्हें सुरक्षा का पूर्ण आश्वासन दिया है।

मामला थाना एका के ¨सगपुर गांव का है। चार वर्ष पूर्व दलित समाज के परिवार का दूसरे पक्ष से विवाद हो गया था। विवाद ने तूल पकड़ा तो दोनों पक्ष आमने-सामने आ गए। कुछ लोगों ने दोनों पक्षों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन समझौता नहीं हो सका। दलित समाज के 20 परिवार गांव से पलायन कर गए थे। क्षेत्रीय लोगों ने कई बार पंचायत कराई, मगर बात नहीं बन सकी। दलित समाज के परिवारों को गांव में लाने के लिए जसराना विधायक रामगोपाल उर्फ पप्पू लोधी प्रयासरत रहे। बुधवार को उनका प्रयास सफल हुआ। विधायक के साथ सभी परिवार गांव में बसने के लिए पहुंच गए। एसओ फूलचंद ने बताया कि परिजनों को पूर्ण सुरक्षा दी जाएगी।

----- एससी-एसटी का मुकदमा दर्ज

फीरोजाबाद: थाना खैरगढ़ के गांव लालई निवासी निक्की देवी पत्नी राजकुमार ने गांव के ही मुरारीलाल, जेपी, पान ¨सह पुत्रगण भगवान ¨सह, प्रेमपाल सहित एक अन्य व्यक्ति के खिलाफ न्यायालय के आदेश पर एससी-एसटी का मुकदमा दर्ज कराया है। महिला का कहना है कि उसकी गाय मुरारीलाल के खेत में चली गई थी। इस पर गालीगलौज करते हुए पिटाई कर दी थी। (जासं)

Posted By: Jagran