-जुड़ाई मजदूरों के वेतन पुनरीक्षण के लिए शासन ने गठित की कमेटी

-एएलसी कार्यालय में सेवायोजक व श्रमिक पक्ष की हुई अहम बैठक

जागरण संवाददाता, फीरोजाबाद: चूड़ी जुड़ाई प्रक्रिया से जुड़े मजदूरों के वेतन पुनरीक्षण व अन्य समस्याओं के निदान के लिए शासन द्वारा गठित कमेटी की बुधवार को लेबर कालोनी स्थित सहायक श्रमायुक्त कार्यालय में महत्वपूर्ण बैठक हुई, जिसमें सेवायोजक व श्रमिक पक्ष ने अपने सुझाव दिए।

सुहाग नगरी में चूड़ी जुड़ाई प्रक्रिया से करीब पांच लाख मजदूर जुड़े हुए हैं। सदर विधायक मनीष असीजा की पहल पर शासन द्वारा जुड़ाई प्रक्रिया में लगे मजदूरों के वेतन पुनरीक्षण के लिए उप श्रमायुक्त आगरा धर्मेद्र कुमार सिंह की अध्यक्षता में सेवायोजक व श्रमिक पक्ष की 12 सदस्यीय कमेटी गठित की गई है। बुधवार को दोपहर 12 बजे उप श्रमायुक्त की अध्यक्षता में कमेटी की बैठक हुई। श्रम प्रवर्तन अधिकारियों ने चूड़ी जुड़ाई प्रक्रिया में लगे श्रमिकों को देय मात्रानुपाती दरों की अध्ययन की रिपोर्ट प्रस्तुत की। श्रम प्रवर्तन अधिकारियों की रिपोर्ट पर सेवायोजक पक्ष ने असहमति जताई। उप श्रमायुक्त ने श्रम प्रवर्तन अधिकारियों को निर्देश दिए कि विशिष्ट बिंदुओं का अध्ययन कर जल्द फाइनल रिपोर्ट प्रस्तुत करें।

सहायक श्रमायुक्त अरुण कुमार सिंह ने वर्ष 1996 का गजट व वर्ष वार हुई वेतन वृद्धि से संबंधित समझौते की रिपोर्ट प्रस्तुत की। उन्होंने सेवायोजक व श्रमिक पक्ष से अपने प्रस्ताव अगली बैठक में प्रस्तुत करने कहा। बैठक में सेवायोजक पक्ष सिडीकेट के डायरेक्टर हनुमान प्रसाद गर्ग, अनिल जैन पिकी, राकेश अग्रवाल, हेमंत अग्रवाल व श्रमिक पक्ष से राधा शंखवार, अजय कुमार, सुरेशचंद्र, सोमेश गोस्वामी उपस्थित रहे।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021