फीरोजाबाद,जागरण संवाददाता। पदमभूषण पंडित बनारसीदास चतुर्वेदी एवं सुबोधचंद्र चतुर्वेदी की स्मृति में रविवार को ओम ग्लास स्टेडियम में फाइनल मैच खेला गया, जिसमें कानपुर इलेविन ने मैनपुरी लॉयन की टीम को दो विकेट से हराकर चैंपियन ट्रॉफी पर कब्जा जमाया।

फाइनल मैच में मैनपुरी लॉयन इलेविन ने पहले खेलते हुए 20 ओवर में सात विकेट के नुकसान पर 133 रन का स्कोर बनाया। जवाब में खेलने उतरी कानपुर इलेविन की टीम ने आठ विकेट के नुकसान पर 135 रन बनाकर मैच जीत लिया। मैन ऑफ द मैच कानपुर इलेविन के गौरव मिश्रा रहे। मुख्य अतिथि के रूप में पूर्व आइएएस प्रभात चतुर्वेदी, उप्र क्रिकेट एसोसिएशन उपाध्यक्ष व प्रमुख उद्यमी प्रदीप गुप्ता मौजूद रहे। टूर्नामेंट समापन पर डॉ. मनोज चतुर्वेदी व फीरोजाबाद टीम ने टूर्नामेंट के आयोजक डॉ. अपूर्व चतुर्वेदी का पगड़ी बांधकर सम्मान किया।

मुख्य अतिथि ने चतुर्वेदी समाज के चार खिलाड़ियों आयुष्मान चतुर्वेदी, जहानवी चतुर्वेदी, दिव्या चतुर्वेदी, लोकमन्यु चतुर्वेदी को सम्मानित किया। मैन ऑफ द टूर्नामेंट का पुरस्कार मैनपुरी के सौमित्र चतुर्वेदी, बेस्ट बेट्समैन कानपुर के गौरव चतुर्वेदी, सर्वाधिक रन बनाने वाले कोलकाता के राहुल चतुर्वेदी, बेस्ट विकेट कीपर कानपुर के अपूर्व चतुर्वेदी, बेस्ट बॉलर का पुरस्कार कोलकाता के खगेश चतुर्वेदी के नाम रहा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप