फीरोजाबाद, जासं। मौसम बदलने के साथ वायुमंडल में प्रदूषण बढ़ रहा है, जिससे लोगों को सांस लेना मुश्किल हो रहा है। पीसीबी की ओर से नोटिस जारी करने के बाद नगर निगम प्रशासन की सक्रियता बढ़ गई है। सोमवार को चनौरा स्थित डंपिग ग्राउंड पर दोपहर में टैंकरों के माध्यम से पानी का छिड़काव कराया गया। पानी के तेज प्रेशर से पेड़ों की भी धुलाई कराई गई।

दीपावली के त्योहार के बाद सुहागनगरी में प्रदूषण काफी बढ़ गया है। आसमान में भी धुंध करीब-करीब हर रोज छा रही है। रविवार को भी सुबह आठ बजे हाईवे पर धुंध छाने वाहनों की रफ्तार कम रही। ²श्यता कम होने के कारण चालकों को दिन भी में लाइट जलनी पड़ी। सुभाष तिराहा, आगरा गेट, गांधी पार्क, स्टेशन रोड सहित अन्य स्थानों पर राहगीर मास्क लगाकर गुजरते दिखे। शाम होते ही हाईवे सहित प्रमुख मार्गों पर दोबारा धुंध छा गई। सोमवार को सुबह फिर हाईवे पर धुंध जैसे हालात नजर आए। अब पीसीबी के नोटिस के बाद नगर निगम सक्रिय हो गया है।

नगर आयुक्त विजय कुमार के निर्देश पर कोटला रोड चनौरा स्थित डंपिग ग्राउंड पर दोपहर में टैंकरों की मदद से पानी का छिड़काव कराया गया। इसके बाद सड़क से उड़ने वाली धूल का असर कम होने से आसपास के लोगों को खासी राहत मिली।

-----

कोयले से सुलग रही भट्टियों पर नहीं लग रहा अंकुश:

टीटीजेड की रोक के बावजूद औद्योगिक क्षेत्र राजा का ताल, मीरा चौराहा, नगला भाऊ औद्योगिक आस्थान में सुबह से देर शाम तक कोयले से भट्टियां सुलग रही हैं। सुहाग नगर, सुभाष तिराहा, आगरा गेट, स्टेशन रोड, करबला, रामनगर, संतनगर, जलेसर रोड, कोटला रोड, नगला बरी, जाटवपुरी, रसूलपुर से आसफाबाद तक होटल, ढाबों, चाय की दुकानों पर खुलेआम भट्टियां सुलग रही हैं। प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड व नगर निगम प्रशासन भट्टियों पर अंकुश नहीं लगा पा रहा।

----

-जिन स्थानों पर कोयले से भट्टियां जल रही हैं, उन्हें बंद कराने के लिए नगर निगम की मदद से अभियान चलाया जाएगा। भट्टियां बंद कराने के साथ उन पर जुर्माना भी लगाएंगे। -मनोज कुमार चौरसिया, क्षेत्रीय अधिकारी प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप