जागरण संवाददाता, फीरोजाबाद: फीरोजाबाद लोकसभा सीट पर नामांकन प्रक्रिया गुरुवार से शुरू हो गई। पहले दिन एक भी नामांकन नहीं हुआ, लेकिन 15 पर्चे खरीदे गए। इस दौरान कलक्ट्रेट पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए। जिला मुख्यालय परिसर में आधा दर्जन से अधिक बैरियर लगवाए गए हैं।

गुरुवार सुबह 11 बजे डीएम सेल्वा कुमारी जे ने चुनाव की अधिसूचना जारी की। इसके साथ ही नामांकन पत्रों की बिक्री एवं नामांकन दाखिल करने का काम शुरू हो गया, हालांकि दोपहर तीन बजे तक एक भी नामांकन दाखिल नहीं हुआ। सपा से सांसद अक्षय यादव के लिए पदाधिकारियों ने चार सेट खरीदे। सांसद शुक्रवार को सुबह नामांकन करने आएंगे। नामांकन प्रक्रिया के दौरान आचार संहिता का उल्लंघन न हो इसके लिए जिला मुख्यालय पर कड़े इंतजाम किए गए हैं। सिटी मजिस्ट्रेट अमित कुमारी तिवारी को प्रभारी बनाया गया है। हाईवे से डीएम कार्यालय जाने वाले मार्ग पर पहली बार चार बैरियर लगाए गए हैं। वहीं दो बैरियर अन्य रास्तों पर लगाए गए हैं। कलक्ट्रेट के प्रवेश द्वार पर भी मजिस्ट्रेट के साथ ही पुलिस फोर्स की तैनाती की गई है। पर्चे लेने में हुई परेशानी:

भारतीय किसान परिवर्तन पार्टी के नेता उपेंद्र सिंह राजपूत पर्चा लेने गए थे। लेकिन उन्हें खाली हाथ लौटना पड़ा। उन्होंने बताया कि वह पिछला लोकसभा चुनाव लड़ चुके हैं। वह पांचवे स्थान पर रहे थे। नामांकन प्रक्रिया से अच्छी तरह वाकिफ हैं। इसके बाद भी एआरओ ने उन्हें कई तरह की औपचारिकताएं बताकर लौटा दिया। ऐसा पहले नहीं था। अब औपचारिकताएं पूरी करने के बाद पर्चा लेने आएंगे।

कैश ले जा रही कार रुकवायी:

सिविल लाइन में पेट्रोल पंप से कैश लेकर कलक्ट्रेट स्थित बैंक में कैश लेकर जा रही गाड़ी को पुलिसकर्मियों ने रोक लिया। इसको लेकर काफी देर तक जांच पड़ताल चलती रही। यह कार्य सपा नेता के पेट्रोल पंप से आई थी। बाद में कार को अंदर जाने की अनुमति दी गई।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस