नारखी(फीरोजाबाद),संवाद सहयोगी। एक दिन पहले वह पत्नी को विदा करवाकर लाया था। दोपहर में किसी बात को लेकर विवाद हुआ और कमरे में उसने पत्नी को तमंचे से गोली मार दी। पत्नी की हत्या के बाद वह सीधा ससुराल पहुंचा और उसकी तबियत खराब होने की सूचना दी। इसके बाद वह रास्ते से फरार हो गया। हत्यारे पति का फिलहाल कोई सुराग नहीं लगा है।

नारखी के गांव शाहपुर निवासी पवन यादव उर्फ लालू की शादी आठ माह पहले फीरोजाबाद के कोटला मुहल्ला की खुशबू से हुई थी। शादी के कुछ दिनों बाद ही लालू मोटरसाइकिल की मांग करने लगा। इसको लेकर दोनों के बीच आए दिन झगड़ा होता था। परिजनों के मुताबिक लालू बुधवार को खुशबू को फीरोजाबाद लेकर आया था। शहर में घुमाने के बाद ससुराल गया और शाम को वापस गांव ले गया।

गुरुवार दोपहर दोनों के बीच किसी बात को लेकर विवाद हुआ। उस समय लालू का पिता उदयवीर खेत पर गया था। मां घेर में काम कर रही थी। दोपहर लगभग ढाई बजे कमरे में लालू ने तमंचे से खुशबू के सिर में गोली मार दी। इसके बाद वह घर से निकला और फीरोजाबाद ससुराल में पहुंचकर बताया कि खुशबू की तबियत खराब है। इसके बाद मायके वाले लालू के साथ चल दिए। रास्ते में फोन के बहाने वह गायब हो गया। गांव पहुंचने के बाद हत्या का राज खुला। घटना की जानकारी पर शाम एसपी सिटी प्रबल प्रताप सिंह, सीओ डॉ अरुण कुमार फोर्स के साथ पहुंच गए। मायके वालों की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लालू की तलाश शुरू कर दी है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस