फीरोजाबाद,जागरण संवाददाता। स्वच्छ भारत मिशन से छूटे परिवारों के घर शौचालय बनवाने में मनमानी करने वाले डेढ़ दर्जन से अधिक ग्राम पंचायत सचिवों पर कार्रवाई हुई है। जिला पंचायत राज अधिकारी ने नौ सचिवों की वेतन वृद्धि रोकने के साथ ही आठ को प्रतिकूल प्रविष्टि दी है।

वंचित परिवारों के घर में शौचालय बनाने का काम 31 मार्च तक पूरा होना था। लेकिन कई ग्राम पंचायत में निर्माण तक शुरू नहीं हो सका है। प्रधान और सचिव अब भी मनमानी कर रहे हैं। सोमवार की शाम समीक्षा के बाद ऐसी स्थिति सामने आने पर डीपीआरओ गिरीश चंद्र ने सारख, सुरैया सुहेलपुर के सचिव जमुना दास, माढ़ई के रजनेश कुमार, पाढ़म के रामचंद्र, कुशियारी के अरुण कुमार, शेखनपुर में काम बंद होने पर अविनाश कुमार, उरावर मदनपुर के रामसेवक यादव, गुड़ा के देवेश कुमार, बसई मुहम्मदपुर के संतोष यादव और गुदांऊ के राकेश कुमार की वेतन वृद्धि रोक दी है।

वहीं रुहासी एका के संदीप कुमार, टोंडरपुर बोथरी के राजेश यादव, कटैना हर्षा, सांखनी के महेंद्र कुमार, थानूमई के अजय कुमार, नारखी के जसवंत यादव, दीपक शर्मा, सतीश चंद्र शर्मा, पचोखरा, पमारी की इंदुलता को प्रतिकूल प्रविष्टि देने के साथ ही कई सचिवों को चेतावनी जारी की है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप