फीरोजाबाद,जागरण संवाददाता। रविवार को लेबर कालोनी में रामलीला महोत्सव में लक्ष्मण शक्ति लगने, भगवान हनुमान द्वारा बूटी लाना सहित विभिन्न लीलाओं का मंचन हुआ। वहीं कोटला रोड स्थित रामलीला मैदान पर भी उक्त लीलाओं का मंचन हुआ। रात नौ बजे से ख्याल सम्मेलन का आयोजन हुआ।

लेबर कॉलोनी में रामलीला का मंचन रात नौ बजे शुरू हुआ। लक्ष्मण एवं मेघनाद के बीच युद्ध हो रहा था। छल कपट से युद्ध करते हुए मेघनाद शक्ति वाण का उपयोग कर लक्ष्मण को मूर्छित कर दिया। हनुमान जी लक्ष्मण को लेकर भगवान राम के पास पहुंचे। तब विभीषण ने उन्हें बताया कि उनका इलाज लंका के वैद्य सुषेन कर सकते हैं। हनुमान लंका पहुंचे और वैद्य को लाए। वैद्य ने बताया कि यदि सुबह होने से पहले संजीवनी बूटी मिल जाए तो लक्ष्मण बच सकते हैं। उनके प्राण बचाने के लिए हनुमान पूरा पर्वत उठा लाए। उन्हें देख शोकमग्न रामादल में आशा की किरण फैल गई। जय बजरंग बली और जय श्रीराम के जयकारे गूंजने लगे। कोटला रोड स्थित रामलीला मैदान पर लीलाओं के मंचन के बाद देर रात ख्याल सम्मेलन हुआ।

-----

अपमानित विभीषण ने ली राम की शरण

टूंडला के रामलीला महोत्सव में रविवार को प्रभु श्रीराम और विभीषण मिलन की लीला का मंचन हुआ। लंका दहन के बाद विभीषण ने रावण को समझाने का प्रयास किया, लेकिन वह नहीं माना और विभीषण को लात मारकर दरबार से निकाल दिया। इसके बाद विभीषण ने राम की शरण ली। रामेश्वरम की स्थापना की लीला भी हुई। जयजीव पाराशर, मनप्रीत सिंह कीर, राधेश्याम, अभिषेक पचौरी, मनोज गुप्ता, जुगनू परमार, कृष्णा हरेन्द्र पाल सिंह, सुधीर कुमार सिंह, हरीश चंदानी, संदीप श्रीवास्तव आदि मौजूद रहे।

----

लक्ष्मण ने काटे सूपर्नखा के नाक-कान:

जसराना के रामलीला मंचन में पंचवटी में बैठे भगवान राम, लक्ष्मण और सीता को देखकर सूपर्नखा ने राम पर मोहित होकर शादी का प्रस्ताव रखा। प्रस्ताव ठुकराने पर गुस्साई सूपर्नखा ने सीता पर हमला करने का प्रयास किया। इसी दौरान भगवान राम का इशारा पाकर लक्ष्मण जी ने सूपर्नखा के नाक कान काट लिए। जिससे लज्जित होकर वह अपने भाई खरदूषण के पास पहुंची। भगवान राम ने अकेले ही खर-दूषण का सेना सहित वध कर दिया।

----

ऑर्चिड ग्रीन में निकली रामबरात:

शहर की पॉश कॉलोनी में ऑर्चिड ग्रीन में भी रामलीला का आयोजन हो रहा है। रविवार की रात यहां भगवान श्रीराम की बरात धूमधाम से निकाली गई। बरात क्लब से शुरू होकर पूरी कॉलोनी में घूमी। इस दौरान जगह जगह स्वागत किया गया। बरात में मां दुर्गा की झांकी आकर्षण का केंद्र रही। राहुल बंसल, विनय सिघल, संजय गुप्ता, अतुल मित्तल आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस