जेएनएन, फीरोजाबाद: मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना से बुधवार को 154 हिदू और 21 मुस्लिम जोड़े एक दूजे के हो गए। जिले में पांच स्थानों पर आयोजित हुए विवाह समारोहों में अधिकारी और जनप्रतिनिधियों ने वर-वधुओं को शुभकामनाएं दीं। सर्वाधिक 92 शादियां जसराना ब्लॉक में हुईं।

बुधवार को पालीवाल हॉल का माहौल अलग था। यहां 22 जोड़े शादी के लिए मौजूद थे। इनमें 20 हिदू और दो मुस्लिम थे। उनके साथ उनके परिवारजन भी आए थे। नगर विधायक मनीष असीजा और नगर आयुक्त विजय कुमार के आते ही विवाह की रस्में शुरू हुईं। मेयर नूतन राठौर ने भी नवदपत्तियों को शुभकामनाएं दीं। फीरोजाबाद में ब्लॉक प्रमुख अर्चना विजय और बीडीओ प्रभात मिश्रा की उपस्थिति में 12 जोड़ों की शादी कराई गई।

शिकोहाबाद: बीडीएम कॉलेज और ब्लॉक परिसर में भी ऐसा ही माहौल था। कॉलेज में नगर पालिका परिषद ने 15 हिदू और नौ मुस्लिम जोड़ों की शादी का इंतजाम किया था। यहां डीएम चन्द्र विजय, विधायक डॉ. मुकेश वर्मा, पालिकाध्यक्ष मुमताज बेगम और जिला समाज कल्याण अधिकारी डॉ. प्रज्ञा शंकर ने नव विवाहित जोड़ों को आशीर्वाद दिया। डीएम ने व्यवस्थाएं देखीं।

एसडीएम डॉ. सुरेश कुमार, अब्दुल वाहिद, ईओ रामपाल सिंह यादव, सुनील सक्सैना, सतीश यादव, पंचम यादव, शीलेन्द्र यादव, आदि मौजूद रहे। इसके बाद डीएम ब्लॉक पहुंचे। यहां 22 हिदू और तीन मुस्लिम जोड़ों की शादी कराई गई।

ब्लाक प्रमुख रूबी यादव, राहुल यादव, बीडीओ दिनेश यादव मौजूद रहे।

जसराना: ब्लॉक परिसर में सुबह से ही बैंडबाजे बजने लगे थे। दोपहर को 85 हिदू और सात मुस्लिम जोड़ों के विवाह की रस्में शुरू हुईं। कार्यक्रम का शुभारंभ विधायक रामगोपाल उर्फ पप्पू लोधी ने किया। उनके साथ जिला पंचायत अध्यक्ष अमोल यादव, व्यवस्थापक ब्लॉक प्रमुख प्रतिनिधि डॉ. संजीव यादव, नगर पंचायत अध्यक्ष अवनीश गुप्ता, बीडीओ सुरेन्द्र सिंह यादव ने नवदंपत्तियों को शुभकामनाएं दीं।

-तैयार होने के लिए नहीं थी कोई जगह.

जसराना के ब्लॉक परिसर में वधुओं के तैयार होने की कोई व्यवस्था नहीं थी। इस कारण किसी को दीवार की आड़ में तो किसी को साड़ियों से बनाए पर्दे के पीछे तैयार होना पड़ा। वहीं परिजनों एवं रिश्तेदारों को बैठने के इंतजाम भी ठीक नहीं थे। हालांकि यहां परिजनों के खाने पीने की व्यवस्था की गई थी।

पंडित जी ने पढ़े मंत्र, काजी ने कराया निकाह:

सामूहिक विवाह समारोहों के दौरान जहां वेद मंत्र गूंजते रहे, वहीं निकाह कबूल है की आवाज भी सुनाई देती रही। हिदू जोड़ों की शादी के लिए आयोजन स्थलों पर पंडित मौजूद थे। मुस्लिम जोड़ों का निकाह कराने के लिए काजी को बुलाया गया था। सभी जोड़ों को गैस चूल्हा, सिलेंडर, कुकर आदि गृहस्थी के सामान के साथ ही चांदी के कुछ आभूषण और 35 हजार रुपये की आर्थिक मदद दी गई।

शिकोहाबाद में बीडीओ को लगाई फटकार:

शिकोहाबाद ब्लॉक में व्यवस्थाएं ठीक न होने और वर वधुओं को योजना की जानकारी न होने पर डीएम ने बीडीओ को फटकार लगाई।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप