फीरोजाबाद, जासं। सुप्रीम कोर्ट द्वारा श्रीराम मंदिर मामले में फैसला सुनाने के बाद जिला एवं पुलिस प्रशासन पूरी सतर्कता बरत रहा है। सोमवार को स्कूल, कॉलेज तो बंद रहे, लेकिन आम दिनों की तरह बाजार गुलजार रहे। एहतियात के तौर पर शहर के मिश्रित आबादी वाले क्षेत्रों, कस्बों के साथ प्रमुख स्थानों पर पुलिस बल तैनात रहा। इसके साथ ही अधिकारी पल-पल की खबर लेने के लिए भ्रमण करते रहे। कंट्रोल रूम के माध्यम से भी जिले के हालात पर नजर रखी गई।

शनिवार को सर्वोच्च न्यायालय ने अयोध्या मामले पर अपना फैसला सुनाया था। कहीं आसपी सौहार्द न बिगड़ जाए, इस आशंका को लेकर शहर से लेकर कस्बों तक सुरक्षा का कड़ा पहरा लगा है। तीसरे दिन सोमवार को भी शहर के गांधी पार्क, सेंट्रल चौराहा, उर्वसी तिराहा, रसूलपुर, हाईवे के जाटवपुरी, नगला बरी, कोटला चुंगी, करबला, नई बस्ती, स्टेशन रोड के साथ ही प्रमुख बाजार शास्त्री मार्केट, घंटाघर, छोटा चौराहा, नालबंदान पर पर्याप्त मात्रा में पुलिस बल तैनात रहा।

एसपी सिटी प्रबल प्रताप, सिटी मजिस्ट्रेट कुंवर पंकज, सीओ सिटी इंदूप्रभा सिंह और उत्तर, दक्षिण एवं लाइनपार थाना इंस्पेक्टर अपने-अपने क्षेत्र के मिश्रित आबादी वाले क्षेत्रों में निगरानी करते रहे। इसके साथ ही टूंडला, शिकोहाबाद, जसराना, सिरसागंज में भी पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारी अलर्ट रहे। सीओ और एसडीएम ने कस्बों के प्रमुख तिराहे, चौराहे सहित संवेदनशील इलाकों का दौरा करते रहे। इस दौरान असामाजिक तत्वों पर कड़ी निगरानी रखी गई।

जुलूस में फर्राटे भरने वाले 11 लोगों को किया पाबंद

रविवार को ईद मिलादुन्नबी के अवसर पर मुस्लिम समाज के लोगों द्वारा शहर में धूमधाम से जुलूस निकाले गए थे। इस दौरान कुछ लोग निर्धारित मार्ग पर न जाकर बाइक से हाईवे पर और लेबर कॉलोनी स्थित मैदान पर फर्राटे भर रहे थे। इस दौरान पुलिस द्वारा कराई गई वीडियोग्राफी में लोग कैद हो गए। एसपी सिटी प्रबल प्रताप सिंह ने बताया कि 11 लोगों को पांबद किया गया है।

पुलिस कर्मियों को बांटी चॉकलेट

अयोध्या मामले को लेकर और ईद मिलादुन्नबी जुलूस के दौरान सतर्कता बरतते हुए पूर्ण मनोयोग से ड्यूटी करने पर एसएसपी सचिद्र पटेल के निर्देश पर एसपी सिटी प्रबल प्रताप सिंह, एसपी ग्रामीण राजेश कुमार, एएसपी इराज राजा सहित सभी सीओ ने अपने-अपने क्षेत्र में लगे पुलिस कर्मियों को चॉकलेट देकर मनोबल बढ़ाया। मुख्यालय पर रहा सन्नाटा

फीरोजाबाद: अयोध्या पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद सोमवार को सरकारी दफ्तर खुले, लेकिन फरियादियों की संख्या कम रही। जिला मुख्यालय पर कलक्ट्रेट और विकास भवन में सन्नाटा सा पसरा रहा। सीडीओ नेहा जैन समय से अपने कार्यालय आ गई थीं और दोपहर एक बजे तक बैठकर काम निपटाया, लेकिन उनके पास भी दो तीन फरियादी ही पहुंचे। कई जिलास्तरीय अधिकारी सेक्टर और जोनल मजिस्ट्रेट की ड्यूटी होने के कारण या तो कार्यालय नहीं आए या कुछ देर बैठकर क्षेत्र में चले गए। इस कारण स्टाफ भी कम रहा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप