जागरण टीम, फीरोजाबाद: गुरुवार को नारखी, एका और अरांव ब्लाक में लगे किसान कल्याण मेलों में कृषकों के लिए तरक्की की नई राह मिली। उन्हें सरकारी योजनाओं का लाभ देने के साथ अपनी कंपनी बनाने और कंपनी के शेयर होल्डर बनने के लिए प्रेरित किया। इससे एक नई कंपनी की पटकथा तैयार हुई और पहले से चल रही एक कंपनी में 60 नए किसान जुड़े।

अरांव ब्लाक में मेले की शुरूआत सांसद डा. चंद्रसेन जादौन ने की। उन्होंने स्वयं सहायता समूह की महिलाओं द्वारा लगाई गई स्टाल का निरीक्षण किया। इसके बाद किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि वे वैज्ञानिकों की राय और सरकारी योजनाओं का लाभ लेकर खेती करें। इसी से उनकी लागत कम होगी और मुनाफा बढ़ेगा। यहां एक किसान उत्पादक संगठन (एफपीओ) की नींव रखी गई। मशरूम की खेती करने वाले इंजीनियर चिराग सिंह ने कंपनी बनाने का प्रस्ताव रखा। इसमें पर 52 किसानों ने सहमति जताई और 10 ने एक एक हजार रुपये का सदस्यता शुल्क भी जमा किया। बीडीओ डा. योगेंद्र सिंह ने योजनाओं की जानकारी दी।

नारखी ब्लाक में मेले का शुभारंभ विधायक प्रेम पाल धनगर और ब्लाक प्रमुख महावीर सिंह बघेल ने सरस्वती पूजन कर की। पीएम ग्रामीण आवास योजना के दस लाभार्थियों को स्वीकृति पत्र बांटे गए। यहां पहले से काम कर रही नारखी फारमर प्रोड्यूसर कंपनी में नए किसानों को जोड़ा गया। उप निदेशक कृषि हंसराज ने बताया कि मेले में 60 नए किसानों ने इस कंपनी की सदस्यता ली। शैलेंद्र सिंह, जगन सेठ, बिन्नू सिंह, सप्पू सिंह, ललित कुमार सिंह, नरेश पाल सिंह, डा. बीडी अग्रवाल, धर्मराज सिंह आदि मौजूद रहे।

वहीं, एका ब्लाक में मेले की अध्यक्षता ब्लाक प्रमुख डा. कीरत राम ने की। जिला कृषि अधिकारी रविकांत सिंह ने किसानों को योजनाओं का लाभ दिलाया।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप