जागरण संवाददाता, फीरोजाबाद: सीएमओ द्वारा गुरुवार को सिरसागंज व कठफोरी में झोलाछाप चिकित्सकों के खिलाफ छापामार अभियान चलाया गया, जिससे चिकित्सकों में खलबली मच गई। कई चिकित्सक क्लीनिकों पर ताले डालकर भाग खड़े हुए।

सीएमओ डॉ. एसके दीक्षित व एसीएमओ डॉ. विनोद कुमार द्वारा जिले में झोलाछाप चिकित्सकों के खिलाफ छापेमारी की गई। उन्होंने कठफोरी में आदेश कुमार कुशवाहा की क्लीनिक पर छापा मारा। सीएमओ ने बताया कि जांच के बाद डाक्टर बीएएमएस डिग्री धारक है, लेकिन वह अपनी पैथी में इलाज न कर एलोपैथिक का इलाज करता मिला। वहां दो मरीजों के बोतल चढ़ाई जा रही थी। सिरसागंज में इटावा रोड पर धर्मार्थ चिकित्सालय छापेमारी के समय डॉक्टर मौके पर नहीं मिला। वहां नौ मरीज भर्ती मिले। किसी मरीज की बीएचटी नहीं बनी थी। सिरसागंज में डॉ. कुंवर पाल मैमोरियल क्लीनिक पर छापेमारी के दौरान नौ मरीजों के बोतल चढ़ती मिलीं। तीनों चिकित्सकों को नोटिस दिए गए हैं। कठफोरी में लक्ष्मी पैथोलॉजी पर छापा मारा। जांच के दौरान पैथोलॉजी का रजिस्ट्रेशन न मिलने पर उसे तत्काल सील करा दिया है। उन्होंने बताया कि झोलाछाप चिकित्सकों के खिलाफ छापेमारी का अभियान लगातार चलाया जाएगा। उनके द्वारा पैथेलॉजी संचालकों से मिलकर जांच कराकर मरीजों का उत्पीड़न किया जा रहा है।

--------

आयुष्मान योजना के तहत निकाली रैली

स्वास्थ्य विभाग द्वारा गुरुवार को आयुष्मान भारत योजना के तहत जिला मुख्यालय पर रैली निकाली गई। रैली का शुभारंभ सीएमओ डॉ. एसके दीक्षित ने हरी झंडी दिखाकर किया। रैली बीआरसी से प्रारंभ होकर डीएम कैंप कार्यालय होते हुए सीएमओ कार्यालय पर पहुंचकर संपन्न हुई। सीएमओ ने आयुष्मान योजना के संबंध में विस्तार से जानकारी दी। रैली में स्वास्थ्य विभाग के चिकित्सकों के साथ छात्र-छात्राएं अध्यापक शामिल रहे। मौके पर नोडल अधिकारी डॉ. प्रताप सिंह, एसीएमओ डॉ. विनोद कुमार, डॉ. महेंद्र प्रताप सिंह, अतुल दीक्षित आदि शामिल रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप