फीरोजाबाद, जागरण संवाददाता। रविवार की रात रमजान का चांद नजर नहीं आया। इसलिए पहला रोजा अब मंगलवार को होना तय है। मस्जिदों में तराबीह पढ़ने का सिलसिला सोमवार की रात से ही शुरू हो जाएगा।

रमजान के पाक महीने का हर किसी को इंतजार रहता है। चांद देखने के लिए मुस्लिम समाज के लोग रात साढ़े आठ बजे तक छतों पर चढ़े रहे। वहीं दूसरे जिलों और प्रांतों में रहने वाले रिश्तेदारों से भी पूछताछ की गई, लेकिन कहीं से भी चांद नजर आने की पुष्टि नहीं हुई। अब सभी सोमवार से तराबीह पढ़ने और मंगलवार की सुबह से रोजा रखने की तैयारी में जुट गए हैं। इस बार रोजा करीब 15 घंटे का है। बुजुर्गों और युवाओं के साथ ही बच्चे भी रोजा रखते हैं। इस्लामिक सेंटर के सचिव मौलाना आलम मुस्तफा याकूबी ने बताया कि मंगलवार को सहरी सुबह चार बजकर तीन मिनट पर होगी और इफ्तार शाम को छह बजकर 57 मिनट पर होगा। शुरू हुई सेंवई और खजूर की बिक्री:

रमजान से पहले ही सेंवई और खजूर की बिक्री शुरू हो गई है। बाजार में खुले में खजूर 80 से 100 और पैकेट में 300 रुपये किलो तक का खजूर उपलब्ध है। इसी तरह फैनी 80 और सिवई 50 रुपये से 80 रुपये किलो के भाव बिक रही है। इस्लामिक सेंटर ने शुरू की हेल्प लाइन

रोजा और रमजान से जुड़ी शंकाओं का समाधान करने के लिए इस्लामिक सेंटर ने हर बार की तरह इस बार भी हेल्पलाइन बनाई हैं जो सोमवार से शुरू हो जाएगी। लोग मोबाइल नंबर 9411965411 एवं 9045005353 पर संपर्क कर सकते हैं।

Posted By: Jagran