फीरोजाबाद,जागरण संवाददाता। स्वास्थ्य सेवाओं के क्षेत्र में जनपद को बड़ी सौगात मिली है। जलेसर रोड पर करोड़ों की लागत से बने मेडिकल कॉलेज का गुरुवार को सादगी पूर्वक शुभारंभ हो गया। हवन-पूजन के साथ कॉलेज प्राचार्या ने सबको बधाइयां दीं। कॉलेज में पहले दिन राजस्थान, इटावा, मैनपुरी, आगरा सहित नौ छात्र-छात्राएं पढ़ाई करने पहुंचे।

जलेसर रोड स्थित स्वशासी मेडिकल कॉलेज में पहले सत्र के लिए एमबीएस की 100 सीटें निर्धारित की गई हैं। 90 छात्र-छात्राओं का दाखिला हो चुका है। मुख्य अतिथि सदर विधायक मनीष असीजा व अन्य अतिथियों ने हवन पूजन कर कॉलेज के अध्ययन सत्र का विधि विधान से शुभारंभ किया। इसके उपरांत सदर विधायक, सीडीओ नेहा जैन, सीएमओ एसके दीक्षित, प्राचार्य डा. संगीता अनेजा ने मां सरस्वती के समक्ष द्वीप प्रज्ज्वलित कर कार्यक्रम का शुभांरभ किया। डॉ. भावना ने टीम के साथ सरस्वती वंदना प्रस्तुत की। सदर विधायक असीजा ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी के प्रयास के चलते प्रदेश के पांच जिलों में मेडिकल कॉलेज खोले गए हैं, इसमें फीरोजाबाद भी शामिल है।

कार्यक्रम में एसडीएम राजेश कुमार वर्मा, सीएमएस डॉ. आरके पांडेय, सीएमएस महिला साधना राठौर, जेल अधीक्षक मु. अकरम खान, डीआइओएस रितु गोयल सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे। दस अगस्त के बाद विधिवत होगा शुभारंभ

प्रिसिपल डॉ.संगीता अनेजा ने बताया कि पांच अगस्त से नौ अगस्त तक दूसरी काउंसलिग है। इसके बाद छात्र-छात्राओं की संख्या बढ़ेगी। तब तक हॉस्टल और क्लास रूम पूरे हो जाएंगे। इस माह स्टूडेंट्स को एंटी रैगिंग, योगा व अस्पताल का निरीक्षण कराया जाएगा, ताकि वे माहौल में ढल सकें। दस अगस्त के बाद विधिवत शुभारंभ किया जाएगा। छात्र-छात्राओं को हॉस्टल एलॉट कर दिए गए हैं। मेस शुरू होने तक टिफिन की व्यवस्था की गई है। टॉक--

-आज कॉलेज का पहल दिन है। मुझे बहुत खुशी है कि मेरा फीरोजाबाद मेडिकल कॉलेज में चयन हुआ है। घर से सीधे कॉलेज आया हूं, अभी हॉस्टल के बारे में कोई जानकारी नहीं है।

अमित कुमार-भरतपुर -मेडिकल कॉलेज में आज पहले दिन आकर बहुत अच्छा लग रहा है। 11 अगस्त से कक्षाएं विधिवत प्रारंभ हो सकेंगी। पहले दिन क्लास अटेंड करके घर वापस चला जाऊंगा।

हर्षित राठौर, मैनपुरी -हमें बहुत खुशी है कि घर से 40 किमी. दूर पर ही मेडिकल कॉलेज मिल गया है। हम तो डेली अप-डाउन करेंगे। घर से आने-जाने में काफी सुविधा रहेगी।

प्रियंका सिंह, आगरा -मेडिकल कॉलेज के पहले दिन बहुत अच्छा लग रहा है। हॉस्टल में रहकर ही पढ़ाई करेंगे। हॉस्टल में रहने से पढ़ाई के लिए अच्छा माहौल मिलता है। सुविधाएं भी अधिक मिलती हैं।

कीर्ति यादव, इटावा

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस