फीरोजाबाद, जेएनएन। बुधवार देर रात कोविड हॉस्पिटल से भागने की कोशिश करने वालेे संक्रमित की मौत हो गई है। संक्रमित ने खिड़की तोड़कर भागने का प्रयास किया था, जिसमें वो छत से गिर गया था। एक घंटे की कवायद के बाद पीपीई किट पहनकर पुलिस उसे पकड़ पाई थी। देरा रात उसे इलाज के लिए कोविड हॉस्पिटल से एफएच मेडिकल कॉलेज भेजा गया था। वहां उसे भर्ती करने से मना कर दिया गया था। संक्रमित वापस मेडिकल कॉलेज में भर्ती किया गया। देर रात से उसका इलाज चल रहा था। जहां गुरुवार सुबह उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। संक्रमित की मौत की पुष्टि सीएमएस डॉ आलोक ने की। वहीं संक्रमित के परिजनों को जैसे ही सूचना मिली तो वो मेडिकल कॉलेज पहुंचकर हंगामा करने लगे। परिजन हॉस्पिटल स्‍टाफ पर हत्‍या का आरोप लगा रहेे हैं। 

शहर में सौ शैया अस्पताल को कोविड हॉस्पिटल बनाया गया है। इसके तीन फ्लोर पर संक्रमितों को भर्ती किया जाता है। मंगलवार रात को संक्रमित भर्ती किये गए थे। बुधवार रात लगभग साढ़े 11 बजे प्रथम तल पर भर्ती संक्रमित युवक ने खिड़की तोड़ कर छलांग लगा दी थी। इसके बाद वह गेट तक पहुंच गया। वहां मौजूद गार्ड ने रोकने की कोशिश की तो उस पर रॉड से हमला बोल दिया, गिरने से लगी चोट के कारण वह भाग नहीं सका। गार्ड के शोर मचाने के बाद अफरातफरी मच गई। उत्तर थाने का फ़ोर्स पहुंचा और दूर से रोकने की कोशिश की, लेकिन वह सुनने को तैयार नहीं हुआ। इसके बाद पुलिस के जवानों को पीपीई किट पहनाकर भेजा गया। लगभग डेढ़ घंटे तक अफरातफरी मची रही। मेडिकल कॉलेज की प्राचार्या डॉ संगीता अनेजा के अनुुुुुसार कि मरीज के भागने की जांच कराई गई। उसे उपचार के लिए हॉस्पिटल में भर्ती किया गया। रात को भी उसका उपचार शुरू कर दिया गया था लेकिन सुबह संक्रमित ने अंतिम सांस ली। 

 

Posted By: Tanu Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस