संवाद सहयोगी, फीरोजाबाद: कोरोना वायरस की चेन तोड़ने के लिए लॉक डाउन लागू है। इसको देखते हुए नगर निगम क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित किया है। कई इलाके सील हैं। आसफाबाद चौराहे से जगह-जगह बैरियर लगाकर हाईवे को वनवे कर दिया है, तो पुलिस पहरेदार बनी है, लेकिन रात होते ही बेपरवाह लोग इस लक्ष्मण रेखा को पार करते हुए ओवरब्रिज और सर्विस रोड पर आ जाते हैं। अधिकांश के मुंह पर मास्क नहीं होता तो कुछ झुंड बनाकर बतियाते रहते हैं।

सुहाग नगरी में कोरोना संक्रमण की चेन लंबी होती जा रही है। अभी तक आठ लोगों की जान जा चुकी है। डेढ़ दर्जन से अधिक कोरोना पॉजिटिव मरीजों का इलाज चल रहा है। दुर्गेश नगर, बीपीएल ग्राउंड, जाटवपुरी, नगला बरी सहित आधा दर्जन क्षेत्र हॉट स्पॉट सील हैं। आसफाबाद चौराहा से सुहाग नगर चौराहे तक जगह-जगह बैरियर लगाकर हाईवे को वन वे कर दिया है। वहीं मुख्य मार्ग से लेकर गलियों के नुक्कड़ों पर पुलिस का पहरा रहता है। बाबजूद इसके कुछ लोग मानने को तैयार नहीं हैं।

रविवार रात नौ बजे जागरण टीम ने हाईवे पर हालात देखे। ओवरब्रिज पर डेढ़ दर्जन से अधिक महिलाएं, पुरुष और बच्चे टहल रहे थे। अधिकांश के चेहरे पर मास्क नहीं था। ओवरब्रिज से उतरते ही कुछ युवा क्रिकेट खेल रहे थे तो कुछ धमाचौकड़ी मचा रहे थे। जाटवपुरी से लेकर बीपीएल ग्राउंड तक लोग जगह-जगह सर्विस रोड किनारे बैठे थे, तो कुछ हाईवे से होकर गलियों में आ जा रहे थे। गलियों में महिलाओं, पुरुषों, बच्चों का जमघट लगा था। कैमरे की नजर पड़ते ही अधिकांश लोगों ने घरों की ओर दौड़ लगा दी। पुलिस के वाहनों का सायरन सुनते ही लोग छुप जाते, लेकिन कुछ समय बाद फिर वहीं हालात हो जाते। हाईवे पर जगह-जगह पुलिस फोर्स तैनात रहता है। इसके साथ ही थाना प्रभारी भ्रमण करते हैं। इसके बावजूद लोग लॉक डाउन तोड़ रहे हैं, तो सख्त कार्रवाई की जाएगी।

प्रबल प्रताप सिंह, एसपी सिटी

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस