डॉ.राहुल सिघई, फीरोजाबाद: विधानसभा उपचुनाव से पहले आए सीएम योगी आदित्यनाथ ने हर वर्ग को सुनहरे सपने दिखाने में कोई कसर नहीं छोड़ी। उद्यमियों को अंतरराष्ट्रीय कारोबार तो आलू किसानों से अंतरराष्ट्रीय सेंटर देने का वादा किया। पहले मेयर फिर सांसद दिलाने की बात कह मतदाताओं को लुभाया। कार्यकर्ताओं की अहमियत समझाते हुए सीधे संवाद किया और कहा कि जनप्रतिनिधि न सुनें तो उन्हें बताए।

मुख्यमंत्री बनने के बाद योगी आदित्यनाथ नगर निगम चुनाव में पहली बार सुहाग नगरी आए थे। दूसरी बार लोकसभा चुनाव में सभा हुई। शनिवार को मंच पर आते ही पहली सभा की यादें ताजा कराई। बोले मैं आया तो आपने मेयर जिताई, फिर चंद्रसेन जादौन को सांसद बनाया। मैंने विकास के वादे किए और आपने भरोसा, इसके लिए आभारी हूं। पानी की जरूरत को गंगाजल से दूर करने का वायदा कर आम जनता की नब्ज को छुआ। किसानों को कर्ज माफी की याद दिला प्रधानमंत्री सम्मान निधि का लाभ साल के अंत तक दिए जाने का भरोसा दिलाया। कांच उद्यमियों को आश्वासन के पिटारे से कलाकृतियों को विश्वस्तर पर पहुंचाने का मंत्र दिया। अब तक एक जिला, एक उत्पाद के जरिए दी गई मदद की याद दिलाई। उन्होंने सीधे वोट तो नहीं मांगे, मगर यह कहा कि जब केंद्र और प्रदेश में एक ही सरकार हो तो विकास की राह आसान होती है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस