फीरोजाबाद, जेएनएन। दो दिन की राहत के बाद रविवार को गर्मी ने फिर से तेवर दिखाए। दोपहर में पारा 42 डिग्री तक पहुंच गया। इस कारण छुट्टी का दिन होने के बाद भी लोग घरों में ही कैद रहे। अच्छी बात यह रही कि बिजली ने उनका साथ निभाया।

लगातार पड़ रही गर्मी से आम आदमी ही नहीं पशु पक्षी भी परेशान हैं। शुक्रवार, शनिवार को फणि का असर रहने के कारण लोगों ने गर्मी से राहत महसूस की थी। तापमान में गिरावट के साथ ही तेज हवाएं चलने से सूरज की तपिश कम हो गई थी। लेकिन रविवार की सुबह से सूरज ने फिर से अपने तेवर दिखाना शुरू कर दिए। ऐसे में शादी वाले परिवारों की मुश्किल बढ़ गईं। उन्हें धूप में ही बाजार को दौड़ना पड़ा। गर्मी से इंसान ही नहीं बल्कि पशु पक्षी भी बेहाल हैं। पानी के प्राकृतिक स्त्रोत खत्म होने से उनकी प्यास नहीं बुझ पाती। गनीमत ये रही कि रविवार को बिजली ने लोगों को परेशान नहीं किया। फीरोजाबाद के साथ ही टूंडला, शिकोहाबाद और जसराना में भी विद्युतापूर्ति ठीक रही।

गन्ने के जूस और कोल्ड ड्रिक की बिक्री बढ़ी:

गर्मी के कारण गन्ने, मौसमी और अनन्नास के जूस की बिक्री बढ़ गई है। लोग अब कोल्ड ड्रिक से अधिक इन चीजों को पसंद कर रहे हैं। मट्ठा, लस्सी और नींबू पानी की डिमांड भी बढ़ रही है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस