फीरोजाबाद,जागरण संवाददाता। परिषदीय स्कूलों में प्रवेश उत्सव के साथ नए शैक्षिक सत्र का स्वागत हुआ। शिक्षक, शिक्षिकाओं ने स्कूल पहुंचे बच्चों का दाखिला लेकर पुस्तकें बांटी। कहीं स्कूल चलो रैली निकाली तो कहीं सांस्कृतिक कार्यक्रम और खेलकूद प्रतियोगिताएं हुई। जिसमें विजयी हुए छात्र-छात्राओं को पुरस्कार देकर मनोबल बढ़ाया।

सोमवार से नए शैक्षिक सत्र का आगाज धूमधाम से हुआ। सुबह साढ़े सात बजे से बच्चों का स्कूल पहुंचना शुरु हो गया था। शिक्षक, शिक्षिकाओं ने नया दाखिला लेने वाले बच्चों का उपहार देकर स्वागत किया। गत शैक्षिक सत्र में पास होने वाले बच्चों को नई कक्षा में प्रवेश दिया तो वहीं कक्षा पांच और आठ पास करने वाले बच्चों को भी प्रमाण पत्र और उपहार देकर विदाई दी। स्कूल में आयोजित प्रतियोगिता में बच्चों ने बढ़चढ़कर प्रतिभाग किया। प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्थान पाने वाले बच्चों को पुरस्कार वितरित किए गए।

निजी स्कूलों में भी सुबह से ही रौनक दिखाई दी। कहीं एडमिशन कराने तो कहीं टीसी कटाने को भीड़ लगी रही। वहीं छुट्टी समाप्त होने के बाद पहली बार मिले बच्चों ने एक दूसरे को गले लगाकर पास होने की बधाई दी। सुबह होते ही महिलाओं को बच्चों को स्कूल पहुंचाने की टेंशन रही। कोई बैग तो कोई लंच तैयार करने में जुटी रहीं।

हर सामान पर कमीशन का खेल:

निजी स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों के अभिभावकों की जेब पर डाका डाला जा रहा है। स्कूल संचालकों का किताबों की दुकान से लेकर यूनीफॉर्म तक कमीशन बंधा हुआ है। यहां तक कि टाई और बेल्ट पर भी हिस्सेदारी है। जिले में स्कूल.

1525 प्राथमिक स्कूल

627 जूनियर स्कूल

59 माध्यमिक एडेड स्कूल

22 राजकीय स्कूल

451 वित्तविहीन स्कूल

Posted By: Jagran