संवाद सहयोगी, शिकोहाबाद: खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन ने सोमवार को तेल के थोक कारोबारी के यहां छापेमारी की। मिलावट का संदेह होने पर अधिकारियों ने मौके पर रखा मिला 36 कुंतल पामोलिन ऑयल सीज कर दिया। कार्रवाई से बाजार में खलबली मच गई।

मैनपुरी चौराहा के निकट राममोहन गुप्ता की न्यू आरएम ट्रेडर्स है। वह पामोलिन ऑयल का कारोबार करते हैं। जिला अभिहित अधिकारी एसएसएच आबिदी के निर्देशन में खाद्य विभाग की टीम दोपहर फर्म पर पहुंची। निरीक्षण में यहां काफी गंदगी और खुले में तेल रखा था। अधिकारियां ने टैकों में भरे दो हजार लीटर पाम ऑयल और 1600 लीटर कॉटन शीड ऑयल का एक-एक सैंपल लेने के बाद पूरा तेल सीज कर दिया। इसकी कीमत 2.72 लाख रुपये आंकी गई है। इस कार्रवाई के दौरान आसपास की कई दुकानें बंद हो गईं। यहां से भी लिए सैंपल:

सोफीपुर में मुरारीलाल और रामनगर में सत्यवीर से मावा का एक-एक नमूना लिया। इसके बाद पैमेश्वर गेट पर रेलवे लाइन के किनारे से बेसन निर्माण इकाई मैसर्स ज्योति ट्रेडिग कंपनी का निरीक्षण किया। गुणवत्ता खराब होने के संदेह पर कारोबारी नितिन गुप्ता से बेसन का और छारबाग में दुकानदार वीरेंद्र सिंह से रंगीन कचरी (पापड़) का एक एक सैंपल लिया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप