जागरण संवाददाता, फतेहपुर : बालिका शिक्षा को समृद्ध बनाने की कड़ी में जिले के हसवा और विजयीपुर ब्लाक में बने कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालयों को उच्चीकृत किया है। इन विद्यालयों में अभी तक आवासीय सुविधा के साथ कक्षा 8 तक छात्राओं लाभ मिल रहा था। शासन के निर्णय पर विद्यालय कैंपस से दूरी अधिक होने के चलते छात्राओं के आवागमन के लिए अब निश्शुल्क वाहन सुविधा भी दी जाएगी।

अभी तक आवासीय सुविधा का लाभ पाने वाली छात्राएं कक्षा 8 तक की पढ़ाई करती थी और आगे की पढ़ाई में ब्रेक आ जाया करता था। केंद्र और प्रदेश सरकार बालिका शिक्षा के लिए खासे काम कर रही है। इसी कड़ी में इन विद्यालयों को उच्चीकृत करने का निर्णय लिया गया। वर्ष 2017-18 में हास्टल स्वीकृत किए गए। जिनका निर्माण बीते जनवरी माह में पूरा हो चुका है। इन हॉस्टलों में कक्षा 9 और 10 की छात्राएं आवासीय सुविधा का लाभ पा सकेंगी जबकि पढ़ाई समीप के राजकीय अथवा सवित्त विद्यालयों से करेंगी। दोनों विद्यालयों में राजकीय और सवित्त विद्यालयों की दूरी अधिक होने के चलते आवंटन कराने वाली छात्राओं को हास्टल से लाने और ले जाने के लिए वाहन सुविधा भी मिलेगी। बीएसए शिवेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि हास्टल बनकर तैयार हो गए हैं। प्रत्येक विद्यालय में प्रति कक्षा 100 छात्राओं को हास्टल का आवंटन होगा। दोनों हास्टलों में 400 छात्राएं आवासीय सुविधा का लाभ पाएंगी। यात्रा सुविधा के लिए शासन को पत्र लिखा गया है जिसमें वाहन और ड्राइवर मिलेंगे जो छात्राओं को हॉस्टल से स्कूल लाने ले जाने का कार्य करेंगे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस