जागरण संवाददाता, फतेहपुर : धाता-विजयीपुर मार्ग में सोमवार सुबह सफर करने वालों के लिए परेशानी का सबब बन गया। गुरसंडी नहर पुल के ऊपर सीमेंट लादकर विजयीपुर कस्बे की ओर जा रहे ट्रक में खराबी आ गई। पुल के ठीक ऊपर ट्रक खराब हो जाने से तीन किमी तक दोनों ओर वाहनों की कतारें लग गई। सुबह नौ बजे से पूर्वाह्न 11 बजे तक भीषण जाम में वाहन चालकों को जूझना पड़ा। बाद में ट्रक सही होने पर वाहन निकलने शुरू हुए।

सतना, मध्य प्रदेश से सीमेंट लादकर विजयीपुर कस्बे की ओर आ रहा दस चक्का ट्रक गुरसंडी नहर पुल के ठीक ऊपर आकर रुक गया। चालक ने खराबी दुरुस्त करने का प्रयास किया पर सफल नहीं हुआ। गाड़ी स्टार्ट न होने की वजह से ट्रक वहीं पर खड़ा रहा। इस दौरान खागा से धाता, महेवा, बादा, चित्रकूट आदि जगहों तक आने-जाने वाले ट्रक, निजी बस, तिपहिया, चार पहिया आदि सैकड़ों वाहन जहा के तहा खड़े हो गए। चित्रकूट, बादा से आने वाली रोडवेज बसें जाम में फंस गईं। बस के चालक, परिचालक ने गाड़ी वापस मोड़कर धाता-सिराथू होकर गंतव्य तक यात्रियों को पहुंचाया। दो घटे के अंदर ही पुल के दोनों ओर तक्कीपुर तथा ऐमापुर गाव तक जाम पहुंच गया। पूर्वाह्न 11 बजे खागा से मैकेनिक मौके पर पहुंचा। ट्रक की खामी दुरुस्त करके उसे सड़क किनारे हटाया गया। खखरेड़ू थानाध्यक्ष सच्चिदानंद त्रिपाठी ने बताया कि जाम में फंसे वाहनों को एक-एक करके निकलवाया गया। छोटे वाहन ऐलई-दामपुर मार्ग से निकल गए। 11 बजे के बाद से सभी वाहन सामान्य तरीके से गुजर रहे हैं।

Posted By: Jagran