जासं, फतेहपुर : वित्तविहीन विद्यालयों में पढ़ाने वाले शिक्षक-शिक्षिकाओं को मेहनताना कम न मिले या फिर हेराफेरी न हो इसके लिए शासन ने शिकंजा कस दिया है। शासन के आदेश के अनुपालन में डीआइओएस ने सभी प्रबंधकों और प्रधानाचार्यों को पत्र लिखा है। इसमें शिक्षक और शिक्षिकाओं के वेतन तथा अन्य भुगतान को आनलाइन खाते में अथवा चेक के माध्यम से किए जाने के निर्देश दिए हैं।

माध्यमिक शिक्षा निदेशक ने पांच सितंबर 2021 को आदेश दिया था। समीक्षा में पाया गया है कि वित्तविहीन विद्यालयों का प्रबंध तंत्र आदेश का अनुपालन नहीं कर पाया है, जिससे शासनादेश की अवहेलना हो रही है। अनुपालन के लिए डीआइओएस को जिम्मेदारी दी गई है। डीआइओएस महेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि आन लाइन और चेक से भुगतान करने की व्यवस्था के पालन में शिथिलता पाई गई है। यह शिथिलता अब बर्दाश्त नहीं की जाएगी। सभी वित्तविहीन विद्यालयों में नए दिशा निर्देश के अनुसार ही भुगतान होगा। शिथिलता पाए जाने पर कड़ी कार्रवाई होगी।

Edited By: Jagran