देसी गाय के दूध से निरोगी रहता शरीर, गोबर से बढ़ती मिट्टी की शक्ति

जागरण संवाददाता, फतेहपुर : साउथ सिटी के तेज गेस्ट हाउस में विश्व हिंदू परिषद, बजरंग दल और दुर्गा वाहिनी का पांच दिवसीय गो रक्षा विभाग की ओर से अभ्यास वर्ग का रविवार को शुरूआत हुई। क्षेत्रीय संगठन मंत्री गजेंद्र सिंह ने अभ्यास वर्ग का शुभारंभ करते हुए बोले कि गोमाता को लेकर आधुनिक विज्ञान ने भी पाया है कि इसके दूध में में लाखों ऐसे तत्व पाए जाते हैं कि बीमारियां फटक नहीं पाती हैं। दूध के उपयोग करने से मानव शरीर बलवान रहते हुए निरोगी काया को प्राप्त रहता है। संगठन के केंद्रीय मंत्री और भारतीय कृषि सलाहकार गुरु प्रसाद ने बताया कि खेती में गाय के गोबर के उपयोग से उर्वरा शक्ति बढ़ती है। प्रांत मंत्री वीरेंद्र पाण्डेय ने भौतिक परिवेश में देशी नस्ल की गाय से दूरी बनाने पर होने वाली दिक्कतों का सारगर्भित उद्बोधन दिया। इस मौके पर विहिप जिलाध्यक्ष डा. विजय शंकर मिश्रा, जिलाध्यक्ष लोकेश गुप्ता, नगर अध्यक्ष मनीष पाण्डेय, संदीप, पंकज कसेरा, संयोजक विक्की साहू, मोनू सोनी, मिंटू सोनी, दुर्गावाहिनी की विभाग संयोजिका अनुराधा श्रीवास्तव, सूर्या पाठक, साक्षी सिंह, मठ मंदिर प्रमुख सतीश रहे।

Edited By: Jagran

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट