जागरण संवाददाता, फतेहपुर : कोरोना के मामले बढ़ जरूर रहे हैं, लेकिन पहली दो लहर जैसी गंभीर स्थिति नहीं देखी जा रही है। संक्रमितों को कोई खास लक्षण नजर नहीं आ रहे हैं, फिर भी उनकी रिपोर्ट पाजिटिव आ रही है। अगर आपके साथ भी ऐसा होता है, तो कतई परेशान न हो बल्कि कलेक्ट्रेट के इंटीग्रेटेड कमांड व कंट्रोल सेंटर का सहारा लेकर घर बैठे कोरोना को हराएं।

डीएम अपूर्वा दुबे ने बताया कि कोरोना की जांच, उपचार और रेफर के लिए बनाए गए इंटीग्रेटेड कमांड और कंट्रोल सेंटर से संक्रमितों की निगरानी की जा रही है और जरूरी परामर्श भी दिए जा रहे हैं। यहां 24 घंटे डाक्टर और मेडिकल टीम मौजूद हैं। कुल 18 दूरभाष नंबर यहां लगाए गए हैं, जिनमें बैठने वाला मेडिकल स्टाफ न सिर्फ मरीजों को सलाह देता हैं, बल्कि उनके उपचार की व्यवस्था भी करता है। कोरोना ड्यूटी कर रहे डा. मुकेश के अनुसार इंटीग्रेटेड कमांड व कंट्रोल सेंटर से होम आइसोलेशन के मरीजों के स्वास्थ्य की स्थिति की निरंतर निगरानी की जा रही है। ध्यान देने वाली बात यह है कि यदि परिवार में कोई व्यक्ति कोरोना पाजिटिव है तो होम आइसोलेशन के नियमों का पालन करें और घर से बाहर न निकलें। इसके अलावा यदि खुद कोरोना के लक्षणों से ग्रसित हैं तो खुद को परिवार के अन्य सदस्यों से दूर रखें और घर से बाहर न निकलें। परामर्श व दवाओं के जरिए उसे ठीक किया जाएगा। इस समय 186 लोगों को निगरानी की जा रही है।

हेल्पलाइन या डाक्टर की जरूरत कब

- लगातार कई दिनों तक 101 डिग्री से अधिक का बुखार।

- सांस फूलना और सांस लेने में परेशानी या भ्रम की स्थिति उत्पन्न होना

- पल्स आक्सीमीटर से नापने पर आक्सीजन का स्तर 94 फीसद से कम आना।

ऐसे जानें, बच्चों में लक्षण

- बुखार, खांसी, जुकाम व लगातार रोना।

- दूध/खुराक लेना बंद करना, दस्त लगना।

- पसली चलना व निढाल पड़ जाना।

12 वर्ष से ऊपर वालों में लक्षण

-बुखार, खांसी, जुकाम व थकावट व दस्त आना।

- सिर दर्द, बदन दर्द त्वचा में चकत्ते पड़ जाना।

- स्वाद या गंध की चेतना का चला जाना।

ये हैं बचाव और सावधानी

- हमेशा मास्क का मुंह और नाक को ढकते हुए इस्तेमाल करें।

- शारीरिक दूरी (आपस में छह फीट की दूरी) का पालन करें।

- बार-बार साबुन-पानी से हाथ धुलें, बिना काम घर से बाहर न निकलें।

- वैक्सीन लगवाएं व संक्रमित होने पर खुद को दूसरों से अलग रखें।

ये हैं कांट्रोल रूम नंबर

-05180-223012

-05180-221004

-05180-221005

-9454417876

--9454417863

टोल फ्री:1800-180-5145 और 104 इंटीग्रेटेड कमांड व कंट्रोल सेंटर संचालित है, जिसमें वर्तमान में 186 संक्रमितों की निगरानी की जा रही है। 24 घंटे सेंटर संचालित है। किसी भी समस्या के लिए यहां संपर्क किया जा सकता है। तुरंत मदद की जाएगी।

धीरेंद्र सिंह, एडीएम न्यायिक व कंट्रोल रूम प्रभारी

Edited By: Jagran