जागरण संवाददाता, फतेहपुर: 15 सितंबर को प्रस्तावित सीएम दौरा और 21 सितंबर तक चलने वाले मोहर्रम पर्व को लेकर सरकारी तौर पर अतिक्रमण अभियान अभी रूका रहेगा। चूंकि प्रशासनिक अधिकारी और पुलिस दोनों ही उपरोक्त कार्यों में व्यस्त है। अतिक्रमण बंद किए जाने का कोई आदेश तो जारी नहीं हुआ लेकिन अगले दस दिनों के लिए यह अघोषित बंदी का माहौल रहेगा। यह बाद अलग है कि जिन सड़कों पर निशान लगाए जा चुके हैं, वहां लोगों को खुद अतिक्रमण हटाने के निर्देश दिए गए हैं।

वैसे शहर में अतिक्रमण अभियान तेजी से चल रहा था, लेकिन सीएम के दौरे और मोहर्रम पर्व को ध्यान में रखते हुए अभियान को लगभग रोक दिया गया है। चूंकि इस अवधि में जगह-जगह पुलिस बल की तैनाती होने के कारण पर्याप्त पुलिस बल प्रशासन के पास नहीं है। ऊपर से नापजोख करने वाले कर्मचारी भी अलग-अलग ड्यूटियों में लगाए गए है। अतिक्रमण प्रभारी प्रेम प्रकाश तिवारी ने बताया कि अभियान बंद नहीं किया गया है, लेकिन पर्व को देखते हुए नई सड़कों पर काम नहीं किया जाएगा। उन्होंने बताया कि इस अवधि में रात में उन 15 सड़कों से मलबा हटाया जाएगा।

उधर, डीएम आंजनेय कुमार ¨सह ने लेखपालों को निर्देश दिए है कि वह अपने तैनाती गांव में पुलिस बल के सहयोग से सड़क के घूर हटवाएं घूर न हटाने वालों पर जुर्माना करे। अगर किसी गांव में खाद गड्ढों पर कब्जे हैं तो उन्हें खाली कराया जाए साथ ही ग्राम समाज की भूमि पर अवैध कब्जे करने वालों को चिह्नित किया जाए।

Posted By: Jagran