जागरण संवाददाता, फतेहपुर : बुधवार को सीडीओ सत्य प्रकाश ने पर्यावरण समिति और गंगा सुरक्षा समिति की बैठक कलेक्ट्रेट के गांधी सभागार में ली। बैठक दौरान सदस्यों से सुझाव लेकर वातावरण को शुद्ध बनाने और गंगा की स्वच्छता के लिए रूपरेखा बनाई गई। सीडीओ ने कहा कि अभियान के रूप में काम करके कार्यक्रम को सफल बनाया जाएगा।

बैठक दौरान तय हुआ कि ठोस और तरल अपशिष्ट का उचित उपटान वातावरण की सुरक्षा में बहुत सहायक है। क्योंकि इसके न होने से गंदगी फैलती है, जो बाद में वातावरण को प्रभावित करती है। नगर पालिका को प्लास्टिक, कचरा, नालियों की सफाई के साथ मेडिकल कचरे के उचित निपटान के निर्देश दिए। उधर गंगा सुरक्षा समिति की बैठक दौरान तय हुआ कि दो अक्टूबर तक स्वच्छता ही सेवा कार्यक्रम चलाकर गंगा किनारे के गांवों में जागरूकता फैलाई जाएगी। दुर्गापूजा व दशहरा में लोग मूर्तियां गंगा में विसर्जित न करें इसके लिए कड़ाई से नियम लागू किए जाएंगे। बैठक दौरान गंगा सुरक्षा समिति के सदस्य शैलेंद्र शरण सिपल ने गंगा जागरूकता यात्रा निकालने का सुझाव दिया। बैठक दौरान जिला पंचायत राज अधिकारी अनिल त्रिपाठी, समेत सभी विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।

Edited By: Jagran