प्रेम-प्रसंग के चलते चाचा ने भतीजी संग फंदा लगाकर दी जान

संवाद सूत्र, बहुआ (फतेहपुर) : ललौली क्षेत्र के एक गांव में प्रेम-प्रसंग के चलते रिश्ते के चाचा और भतीजी ने फंदे से लटककर जान दे दी। ग्रामीणों और स्वजन की मौजूदगी में पुलिस ने सूने घर का दरवाजा तोड़कर शवों को उतारा। चर्चा रही कि प्रेमी (चाचा) की शादी कहीं और तय गई थी। इसके चलते दोनों ने खुदकुशी कर ली। वहीं, पुलिस ने बताया कि ग्रामीणों और स्वजन के सामने ही दरवाजा तोड़ा गया है। क्योंकि, दरवाजे की कुंडी अंदर से बंद थी। हालांकि, मामले की जांच कराई जा रही है।

एक गांव निवासी 20 वर्षीय युवक (चाचा) गुजरात के सूरत शहर स्थित एक कपड़ा फैक्ट्री में काम करता था। अभी 10 दिन पूर्व ही वह घर आया था। घर के सामने रिश्ते की 18 वर्षीय पारिवारिक भतीजी रहती थी। शनिवार को दोपहर बाद दोनों घरों से निकल गए। शाम तक जब ये घर नहीं आए तो स्वजन ने खोजबीन शुरू कर दी। जब दोनों नहीं मिले तो देर शाम ग्रामीण और स्वजन, युवती के पारिवारिक दादा के सूने घर में पहुंचे। यहां उन्होंने देखा कि युवती का शव दुपट्टे से बने फंदे से लटक रहा था और युवक का रस्सी से। सीओ अनिल कुमार और थाना प्रभारी आलोक पांडेय ने बताया कि प्रथम दृष्टया प्रेम प्रसंग के चलते युगल ने जान दी है। हालांकि, मामले में पूछताछ की जा रही है।

डेढ़ महीने पहले पकड़े गए थे दोनों

दिवंगत युवक के बड़े भाई ने बताया कि युवक और युवती का रिश्ता चाचा-भतीजी का था। करीब डेढ़ महीने पूर्व उसका भाई, भतीजी के साथ पकड़ा गया था। इस पर युवती को उसके स्वजन ने पीटा था, जिससे आत्मग्लानि के चलते भाई सूरत चला गया था।

प्राइमरी से दोनों ने छोड़ दी थी पढ़ाई

ग्रामीण और स्वजन ने बताया कि दोनों युवक-युवती ने प्राइमरी पाठशाला में पढ़ने के बाद पढ़ाई छोड़ दी थी। इन दोनों के परिवार मजदूरी कर जीविकापार्जन करते हैं। दिवंगत पांच भाइयों में मझिले नंबर का था, जबकि युवती अपनी तीन बहनें और भाई में मझिले नंबर की बताई गई है।

Edited By: Jagran