संवाद सहयोगी, खागा : स्थानीय कांग्रेसियों ने महंगाई का मुद्दा उछालकर केंद्र व प्रदेश सरकार पर जमकर भड़ास निकाली। समस्याओं से संबंधित ज्ञापन एसडीएम के माध्यम से प्रदेश के राज्यपाल को प्रेषित किया।

धरने में बैठे कांग्रेस कार्यकर्ताओं का कहना था प्रदेश व केंद्र में भाजपा की सरकार है। सरकारें नौजवान, छात्र, किसान विरोधी कार्य कर रही हैं। मंहगाई दिनों दिन बढ़ती जा रही है। डीजल, पेट्रोल, गैस तथा बिजली के दामों में बेतहाशा वृद्धि हुई है। शिक्षित बेरोजगारों के लिए सरकारें रोजगार मुहैया कराने में विफल रही हैं। पुलिस उत्पीड़न, निर्दोषों पर फर्जी मुकदमे, गन्ना खरीद केंद्रों में बिचौलियों की सक्रियता, बदहाल बिजली आपूर्ति, विद्युत सब स्टेशनों की बदहाली, जर्जर तारों से होने वाली दुर्घटनाएं, सूखी पड़ी नहरें, रारी गांव में सात साल से अधर में लटकी ग्राम समूह पेयजल योजना, सप्लाई विभाग में व्याप्त भ्रष्टाचार आदि मुद्दे हावी रहे। धरना समाप्ति के बाद चौदह सूत्रीय मांग पत्र एसडीएम खागा को सौंपा गया। जिसमे समस्याओं के अतिशीघ्र निस्तारण की मांग उठाई गई। धरने में मुख्य रूप से ओमप्रकाश गिहार, महबूब आलम, अवधेश तिवारी, हरीप्रसाद शर्मा, रामबहादुर ¨सह, सुरेश ¨सह, कमलेश मौर्य, राम¨सह पाल, केशचंद्र, सच्चे मियां, राकेश, संजय, जहूर हसन, कौशल किशोर आदि लोग रहे।

Posted By: Jagran