छात्रों के ड्रेस और बैग के लिए खातों में पहुंचा 19.97 करोड़

जागरण संवाददाता, फतेहपुर : जूता, मोजा, बैग, स्वेटर और यूनीफार्म वितरण की पुरानी व्यवस्था पर शासन ने विराम लगा दिया था। अब योजना का सीधा लाभांश अभिभावक के खाते में भेजने का निर्णय लिया था। सोमवार को सीएम योगी आदित्यनाथ ने नई योजना की शुरुआत लखनऊ से की। आयोजित कार्यक्रम को ब्लाक संसाधन केंद्र के साथ कलेक्ट्रेट के विज्ञान कक्ष में सुना और देखा गया। पहले फेज में जिले के 1,66,497 छात्र और छात्राओं के अभिभावकों के खाते में 12 सौ रुपये की धनराशि डीबीटी (डायरेक्ट बेनीफिट ट्रांसफर) से भेजी गई। योजना के तहत छात्र और छात्राओं को निश्शुल्क वितरित की जाने वाली सामग्री में जूता, मोजा, यूनीफार्म, बैग और स्टेशनरी शामिल है। जिला बेसिक शिक्षाधिकारी (बीएसए) संजय कुमार कुशवाहा ने बताया कि जिले का लक्ष्य 2,95,768 है, जिसके सापेक्ष पहले फेज में 1,66,497 अभिभावकों के खातों में डीबीटी के माध्यम से 12 सौ रुपये की धनराशि भेजी गई है। लाभ से बचे हुए शेष अभिभावकों के खातों में यह धनराशि जल्द भेजी जाएगी। हर अभिभावक को निश्शुल्क वितरण की सामग्री अनिवार्य रूप से खरीद कर बच्चों को देनी होगी। प्रधानाध्यापक से रिपोर्ट मंगवाई जाएगी और खंड शिक्षाधिकारी इसकी मानीटरिंग करेंगे।

ये भी जानें

12 सौ रुपये में यह यह वितरण

वस्तु : निर्धारित धनराशि

यूनीफार्म दो सेट : 600

स्वेटर : 200

जूता, मोजा : 125

स्टेशनरी : 100

बैग : 175

Edited By: Jagran