संवाद सहयोगी, ¨बदकी : जवाहर नवोदय विद्यालय सरकंडी में वायरल फीवर, पेट दर्द से पंद्रह बच्चे बीमार पड़ गए हैं। पांच बच्चों को सोमवार की रात इलाज के लिए सीएचसी लाया गया। अब तक बुखार से पीड़ित 6 बच्चों को अभिभावकों के साथ घर भेजा जा चुका है। विद्यालय प्रशासन व चिकित्सक का कहना है मौसम के परिवर्तन के कारण बच्चों को बुखार आया है।

जवाहर नवोदय विद्यालय सरकंड़ी में सोमवार की रात बीमार पड़े छात्र शिवदीप (16), प्रकाश (15), सागर (16), आशीष (15), कार्तिक (17) को इलाज के लिए सीएचसी लाया गया। बच्चों को सिर दर्द, पेट दर्द, बुखार की शिकायत थी। सुबह मंगलवार को छात्र अलोक पटेल को अधिक बुखार होने पर तबियत अधिक बिगड़ गई। इस पर विद्यालय प्रशासन ने छात्र के अभिभावक को सूचना दी। अविभावक के पहुंचने पर छात्र को सुपुर्द कर दिया गया। छात्र ने बताया विद्यालय में अभी अक्षय शुक्ला (14), ज्ञाने‌र्श्वर (15), मानस (13) सहित 15 से 20 बच्चे बुखार, खांसी से पीड़ित हैं। विद्यालय में शनिवार बच्चों को बुखार आ रहा है। विद्यालय में प्राथमिक उपचार के बाद जिनको लाभ नहीं मिला उन्हें सीएचसी ¨बदकी इलाज के लिए लाया गया है। विद्यालय से तीन दिन में छह छात्रों को अधिक बीमार होने पर प्राथमिक उपचार के बाद अभिभावकों के साथ घर भेज दिया गया। बीमार बच्चों को इलाज करने वाले चिकित्सक डा. पंकज अवस्थी ने बताया बच्चों ने वायरल फीवर था। किसी किसी ने हल्के पेट दर्द व खांसी की शिकायत की। मौसम के बदलाव के कारण बच्चे बीमार पड़े हैं।

========================

'तीन चार दिन से बच्चे वायरल फीवर से बीमार हैं। चिकित्सकों की टीम विद्यालय आई थी। सभी को दवाएं दी गई हैं। इसके बाद भी छह बच्चों की हालत नहीं सुधरी तो अभिभावकों के साथ घर भेज दिया गया। विद्यालय में सिर्फ प्राथमिक उपचार ही दिया जाता है। इसके बाद भी सुधार नहीं हुआ तो अभिभावक को सूचना देकर बच्चे घर भेज दिया जाता है। ताकि अभिभावक दूसरी जगह सही इलाज करा सकें। स्वस्थ्य होने पर फिर बच्चा कालेज आता है।'

एसके पांडेय प्रधानाचार्य जवाहर नवोदय विद्यालय सरकंडी

Posted By: Jagran