जागरण टीम, फतेहपुर : सोमवार को अलग-अलग थानान्तर्गत हाईवे व जीटी रोड में तेज रफ्तार से फर्राटा भरने की वजह से आठ शिक्षकों समेत चौदह लोग जख्मी हो गए। घायलों में तीन शिक्षकों की हालत गंभीर देखकर चिकित्सकीय टीम ने एलएलआर, कानपुर के लिए रेफर कर दिया।

बिदकी नगर के सीपीएस (चिल्ड्रेन पब्लिक स्कूल) के आठ शिक्षक व शिक्षिकाएं सोमवार की सुबह कानपुर से वैन में सवार होकर बिदकी स्कूल आ रही थीं। उधर औंग कस्बे के एसेंट पब्लिक स्कूल की वैन कट से अचानक प्रयागराज को जाने वाली लेन में आ गई, जिससे शिक्षकों की वैन व छात्रों की खाली वैन की भिड़ंत छिवली नदी के समीप हो गई। दुर्घटना देख गांव के लोग दौड़कर मौके में पहुंचे। पुलिस व पीआरवी की मौजूदगी में ग्रामीणों की मदद से पुलिस ने वैन में फंसे शिक्षकों चितामणि बनर्जी, आशीष तिवारी व प्रभा मिश्रा को बाहर निकाला। इन तीनों को गोपालगंज से एलएलआर, कानपुर रेफर कर दिया गया है। वहीं वैन चालक वैन चालक मोनू यादव निवासी रामादेवी, कानपुर समेत पांच अन्य को मामूली चोटें आई हैं। थाना प्रभारी राकेश मौर्य ने बताया कि वैन सवार तीन शिक्षक गंभीर रूप से घायल हुए हैं जिन्हें हैलट भेजा गया है।

शहर क्षेत्र के राधानगर में बाइकों की सीधी भिड़ंत में बाइक सवार 40 वर्षीय श्यामबाबू, इसकी 08 वर्षीय बेटी लक्ष्मी व फूलचंद्र निवासी धारूपुर थाना मलवां जख्मी हो गए। घायलों को एंबुलेंस से सदर अस्पताल लाकर भर्ती कराया गया। उधर बिदकी कोतवाली के मंडराव निवासी 30 वर्षीय मुन्नू सिंह ललौली थाने के कोंडार निवासी 20 वर्षीय किशन के साथ बाइक से बहुआ जा रहे थे। चिल्ला मार्ग दुगरेई मोड़ के समीप तेज रफ्तार कार की टक्कर लग जाने से उक्त दोनो जख्मी हो गए। इसी प्रकार बिदकी कोतवाली के तेंदुली निवासी अरविद द्विवेदी काशीराम कालोनी के समीप बोलेरो की टक्कर से जख्मी हो गए। घायलों को अस्पताल भेजा गया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस