जागरण संवाददाता, फर्रुखाबाद : संदिग्ध हालात में बुधवार सुबह महिला का शव पेड़ पर लटका मिला। मायके वालों ने हत्या कर शव लटकाने का आरोप लगाकर जमकर हंगामा किया। पुलिस ने कार्रवाई का भरोसा देकर लोगों को शांत किया।

फतेहगढ़ कोतवाली क्षेत्र के गांव कुड़री खेड़ा निवासी 45 वर्षीय नन्हीं देवी पत्नी रावेंद्र कुशवाह उर्फ झंडू का शव बुधवार सुबह घर से 200 मीटर की दूरी पर धार्मिक स्थल की भूमि पर लगे पेड़ पर साड़ी के सहारे लटका मिला। सूचना मिलने पर जनपद कन्नौज के तिर्वा थाना क्षेत्र के नरायनपुर निवासी नन्हीं देवी के भाई रामपाल कुशवाह आदि स्वजन के साथ मौके पर पहुंचे। मायके वालों ने हत्या का आरोप लगाकर जमकर हंगामा किया। उधर नन्हीं देवी का पति रावेंद्र मौके से भाग गया। पुलिस ने समझा बुझाकर मायके वालों को शांत किया। ग्रामीणों के मुताबिक सुबह नन्हीं देवी शौच करने गई थी। इसके बाद उनका शव फांसी के फंदे पर लटका मिला। मृतका के भाई रामपाल ने बहनोई आदि पर हत्या कर बहन का शव फंदे पर लटकाने का आरोप लगाया। कोतवाली प्रभारी ने जयप्रकाश पाल ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई की जाएगी। दोपहर तक चला समझौता, नहीं बनी बात

नन्हीं देवी की मौत की सूचना पर पहुंचे मायके वालों और ससुरालीजनों के बीच समझौता वार्ता चलती रही। नन्हीं देवी के बच्चों के नाम खेती नाम करने के लिए मायके वाले सदर तहसील पहुंचे। हालांकि जब समझौता नहीं हुआ, तब दोपहर तीन बजे के करीब यूपी 112 पर नन्हीं की मौत की सूचना दी गई। इस पर यूपी 112 के पुलिस जवान जांच करने मौके पर पहुंचे। थोड़ी देर बाद कोतवाली प्रभारी जयप्रकाश पाल और याकूतगंज चौकी प्रभारी अमित शर्मा भी घटनास्थल पर पहुंच गए। पुलिस को नन्हीं देवी के पति नहीं मिले। पुत्री ने भी लगाया हत्या का आरोप

नन्हीं देवी के तीन बच्चों में 17 वर्षीय पुत्र अतुल, 15 वर्षीय पुत्री मुस्कान और 10 वर्षीय पुत्र छोटू है। विगत सोमवार को मुस्कान अपनी ननिहाल गई थी। बुधवार को मां की मौत सूचना पर वह घर पहुंची। मुस्कान ने भी मां की हत्या करने का आरोप लगाया।

Edited By: Jagran