संवाद सहयोगी, कायमगंज : श्री हंसगिरि बाबा सांझी मंडल की ओर से गुरुवार देर रात निकाली गई झांकियों ने लोगों को मंत्र मुग्ध किया। पिछले वर्ष कोरोना संकट के कारण स्थगित रहा सांझी आयोजन इस बार धीरे धीरे रंगत में आ रहा है। शिवाला भवन गंगा दरवाजा से शुरू हुई सांझी शोभायात्रा नगर के मुख्य मार्ग से होकर देर रात बजरिया पहुंची।

बताते चलें कि सांझी आयोजन में पितृ पक्ष के पूरे पखवारे देर रात तक झांकियां व स्वांग निकाले जाने की पुरानी परंपरा है। पहले आयोजन व्यक्तिगत स्तर पर होते थे। अब कमेटियां बन गई हैं, जिसमें एक दिन बजरिया के शीतल सांझी मंडल व अगले दिन गंगादरवाजा के हंसगिरि बाबा सांझी समिति की ओर से आयोजन होता है। दोनों ही कमेटियां प्रतिस्पर्धा में एक दूसरे से बेहतर प्रस्तुतियां देने का प्रयास करती हैं। पिछले वर्ष कोरोना संकट के कारण यह आयोजन नहीं हो सका था। इस वर्ष शीतल सांझी मंडल के अध्यक्ष मुकेश दुबे, महामंत्री महेश चंद्र उर्फ भोले वर्मा, कोषाध्यक्ष जानी सक्सेना व श्री हंसगिरि बाबा सांझी मंडल के अध्यक्ष सागर गुप्ता, महामंत्री विशाल गुप्ता व कोषाध्यक्ष आशीष गुप्ता के नेतृत्व में 20 सितंबर से सांझी आयोजन शुरू हो गया है।

Edited By: Jagran