जागरण संवाददाता, फर्रुखाबाद : कार का पहिया चढ़ने पर स्कूटी सवार से विवाद हुआ तो सर्राफ राजू पांडेय ने लाइसेंसी रिवाल्वर की बट से चिकित्सक को पीट दिया था। इसी पर चिकित्सक ने लाइसेंसी पिस्टल से गोली मारकर सराफ की हत्या कर दी थी। पुलिस ने घटना में प्रयोग की गई पिस्टल व स्कूटी बरामद कर चिकित्सक व उसके साथी युवक को गिरफ्तार कर गुरुवार को जेल भेज दिया।

शहर कोतवाली के मोहल्ला खड़ियाई निवासी सराफ राजू पांडेय की विगत 10 अगस्त को गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इस मामले में स्वाट टीम प्रभारी कुलदीप दीक्षित, शहर कोतवाल राजेश पाठक और सर्विलांस प्रभारी निरीक्षक विनय प्रकाश राय व सिपाही सतेंद्र, अनुराग ने शहर के मोहल्ला बूरावाली गली निवासी जनपद मैनपुरी के बेवर सीएचसी में कार्यरत चिकित्सक आशुतोष मिश्रा व उनके साथी जनपद मथुरा थाना कोसी कलां क्षेत्र के बुखरारी निवासी भरत लाल को गिरफ्तार कर उन्हें जेल भेज दिया। पुलिस अधीक्षक अतुल शर्मा ने बताया कि आशुतोष बीएसएफ में सहायक कमांडेट रह चुके हैं। वह दोस्त भरत का विवाद निपटाने उसके साथ एक चिकित्सक की स्कूटी से मोहल्ला खड़ियाई से होकर जा रहे थे। वहां पर कार का पहिया आशुतोष पर चढ़ गया। जिस पर कार चला रहे रितिक से हाथापाई हो गई। इसी बीच पहुंचे रितिक के पिता राजू ने रिवाल्वर की बट से चिकित्सक पर हमला कर दिया। जान का खतरा देख चिकित्सक ने लाइसेंसी पिस्टल से गोली मारकर राजू की हत्या कर दी। मौके से भरत भागा तो वह रास्ता भटक गया। इस पर वह सीसी कैमरे में कैद हो गया। आशुतोष रोडवेज बस स्टैंड पहुंचा। जानकारी के अनुसार पुलिस चिकित्सक को बेवर व भरत को मथुरा से पकड़ लाई।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप